विकास भवन के सभागार में विकास कार्यों की समीक्षा

उन्नाव


आयुक्त लखनऊ श्री अनिल गर्ग ने आज उन्नाव स्थित विकास भवन के सभागार में विकास कार्यों की समीक्षा करते हुये कहा कि मा0 मुख्यमंत्री जी के विकास परक योजनाओं व कार्यों पर विशेष ध्यान देते हुये कहा कि गुणवत्तायुक्त / पारदर्शिता के साथ समय सीमा के अन्तर्गत विकास का कार्य हो। कोई ग्रामीण जिस भी योजना का लाभार्थी है उसे उस योजना का लाभ दिलाया जाये। उन्होंने कहा कि विकासपरक योजनाओं की सूची में हर पात्र व्यक्ति का नाम हो इस उद्देश्य से जनपद के समस्त अधिकारी अपने अपने स्तर से कार्यों को गुणवत्तायुक्त सम्पादित करें।
श्री अनिल गर्ग ने कहा कि विकास की कड़ी में एस0डी0एम0/बी0डी0ओ0 की बहुत बड़ी भूमिका होती है। उन्होंने कहा कि एस0डी0एम0/ बी0डी0ओ0 तहसील व ब्लॉक से प्रतिदिन फील्ड पर निकलेंगे और वे अपने-अपने एरिया को चिन्हित कर विकास के कार्यों को गुणवत्ता स्तर पर कार्य करायेंगे। उन्होंने जिलाधिकारी श्री देवेन्द्र कुमार पाण्डेय व पुलिस अधीक्षक श्री माधव प्रसाद वर्मा को भी निर्देशित करते हुये कहा कि जनपद उन्नाव औद्योगिक क्षेत्र है, यहां पर सभी फैक्ट्रियों का समय-समय पर निरीक्षण कर आ रही शिकायतों/परेशानियों को प्राथमिकता पर दूर करेंगे। उन्होंने कहा कि स्लॉटर हाउस पर विशेष ध्यान दें कि कहीं भी जानवर कटने नहीं चाहिये। उन्होंने उपायुक्त उद्योग से सभी फैक्ट्रियों की पूरी जानकारी ली, जो नई फैक्ट्रियां बन रही हैं व कितने की मांग है आदि की स्थिति जानी।
मण्डलायुक्त श्री अनिल गर्ग ने वृक्षारोपण पर समीक्षा करते हुए प्रभागीय निदेशक श्री ओ0पी0 सिंह से वृक्षारोपण की स्थिति जनपदवार जानी, जिसमें उन्हें बताया गया कि उन्नाव में कुल 39,59,830 पौधे रोपित किए जाएंगे। जिसमें वन विभाग द्वारा व अन्य विभागों का लक्ष्य अलग-अलग निर्धारित कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि माइक्रो प्लान बनाकर ग्रामवार भी पौधों को रोपित किया जाए। उन्होंने पॉलीथिन की रोकथाम पर समीक्षा करते हुये समस्त ई0ओ0 व डी0पी0आर0ओ0 को निर्देशित करते हुए कहा कि जो भी व्यक्ति पॉलीथिन का प्रयोग करते हैं उनके विरूद्ध कार्यवाही हो साथ पॉलीथिन बनाने वाली फैक्ट्रियों के विरुद्ध भी तत्काल कार्यवाही हो। उन्होंने यह भी कहा कि पॉलिथीन अभियान चलाकर पॉलीथिन पर रोक लगाई जाए। उन्होंने जनपद को साफ-सुथरा रखने के उद्देश्य से पुलिस प्रशासन व नगर पालिका सभी को सहयोग से कार्य करने के निर्देश दिए, वार्ड वाइज सफाई की स्थिति जानी, उन्होंने कहा कि कूड़े को निस्प्रयोज कर खाद बनवाए जाएं, उन्होंने यह भी कहा कि व्हाट्सएप के माध्यम से सफाई व्यवस्था की जानकारी लेकर,सफाई का कार्य करायें। सरकारी दफ्तरों में भी पॉलीथिन पर रोक हो, हर कार्यालय के विभागाध्यक्ष इस को सुनिश्चित करलें की कार्यालयों में पॉलीथिन का प्रयोग न हो। उन्होंने गौशाला की स्थिति पर भी समीक्षा की, जिसमें उन्होंने ग्रामीण क्षेत्र व शहरी क्षेत्रों में बन रहे गौशाला की जानकारी के साथ निजी गौशालाओं की भी जानकारी ली। मुख्य पशु चिकित्साधिकारी ने बताया कि सभी घुमन्तु पशुओं को गौशालाओं तक पहुंचाया जा रहा है और पशुओं का टीकाकरण कराकर टैगिंग भी कर दी गई है।
श्री गर्ग ने स्वच्छ भारत मिशन के तहत शौचालय की समीक्षा करते हुये कहा कि कितने शौचालय प्रयोग हो रहे हैं, इसको देखें। उन्होंने पी0डब्ल्यू0डी0, सिंचाई, जल निगम, नमामि गंगे आदि पर भी समीक्षा की।
बैठक में जिलाधिकारी श्री देवेन्द्र कुमार पाण्डेय, पुलिस अधीक्षक श्री माधव प्रसाद वर्मा, अपर जिलाधिकारी श्री राकेश सिंह, डी0एफ0ओ0 श्री ओ0पी0 सिंह, जिला विकास अधिकारी श्री आर0यू0 द्विवेदी, समस्त उपजिलाधिकारी, समस्त अधि0 अभियन्ता सहित सम्बन्धित अधिकारी/कर्मचारी उपस्थित थे।
----------------------------
जिला सूचना कार्यालय, उन्नाव।


 


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन