साबिया व गंगाराम के चेहरे पर लौटाई आयुष्मान ने मुस्कान 

फतेहपुर।


आयुष्मान भारत योजना के तहत अनुभव डेंटल केयर हास्पिटल में दो दिवसीय निरूशुल्क हेल्थ कैंप का आयोजन किया गया। दो दिनों में १८६ मरीजों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। इनमें दो आयुष्मान लाभार्थियों का इलाज कर उन्हे दोबारा मुस्कान लौटाई गई। हास्पिटल में हेल्थ कैंप के दौरान दांत में दर्द, मसूढ़ों से खून आना, पायरिया आदि से संबंधित मरीज आए। इसमें तेलियानी की रहने वाली लाभार्थी साबिया बानो भी पहुंची। 04 महीने से दांत दर्द से परेशान थीं। इनके दांत के नीचे गांठ का आपरेशन करके निकाला गया। इसी प्रकार छिवलहा के रहने वाले गंगा राम जो कि तीन दिन पहले छत से गिर गए थे जिससे जबड़ा टूट गया था। इनका भी आपरेशन किया गया। दंत चिकित्सक उदित नरायण मौर्य ने बताया कि दोनों मरीज अब स्वस्थ हैं। 
सीएमओ डा उमाकांत पांडेय ने बताया कि जिला महिला अस्पतालए जिला अस्पताल समेत गैर सरकारी अस्पतालों को इस योजना से संबंध कर दिया गया है। जिले में अब तक 52441 लाभार्थियों के कार्ड बनाए जा चुके हैं इनमें करीब 550 मरीजों को योजना का लाभ भी मिल चुका है। पात्र परिवार ऐसे ले सकते हैं लाभ, डिस्ट्रिक्ट कोआर्डिनेटर विशोक ने बताया कि आयुष्मान भारत सरकार की एक बीमा योजना है। इसके लाभार्थी को अस्पताल में भर्ती होने के लिए कोई चार्ज नहीं देना पड़ता है। अस्पताल में दाखिल होने से लेकर लास्ट तक का सारा खर्च इस योजना में कवर किया जाता है अस्पतालों में तैनात आयुष्मान मित्र मरीज को अस्पताल की सुविधाएं दिलाने में मदद करते हैं। अस्पताल में हेल्प डेस्क पर दस्तावेज चेक करके स्कीम में नामांकन के लिए वेरीफिकेशन में मदद करते हैं। इस योजना में शामिल व्यक्ति देश के किसी भी सरकारी पैनल में शामिल निजी अस्पताल में इलाज करा सकता है।
ऐसे ले सकते हैं पात्र परिवार लाभ
डिस्ट्रिक को-आर्डिनेटर विशोक ने बताया कि आयुष्मान भारत सरकार की एक स्वास्थ्य बीमा योजना है। इसके लाभार्थी को अस्पताल में भर्ती होने के लिए कोई चार्ज नहीं देना पड़ता है। अस्पताल में दाखिल होने से लेकर लास्ट तक का सारा खर्च इस योजना में कवर किया जाता है। अस्पतालों में तैनात आयुष्मान मित्र मरीज को अस्पताल की सुविधाएं दिलाने में मदद करते हैं। अस्पताल में हेल्प डेस्क पर दस्तावेज चेक करके स्कीम में नामांकन के लिए वेरीफिकेशन में मदद करते हैं। इस योजना में शामिल व्यक्ति देश के किसी भी सरकारी पैनल में शामिल निजी अस्पताल में इलाज करा सकता है।



Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन