संवेदनशील व्यक्ति दूसरों के दुःख-दर्द को ज्यादा समझ सकता है : नाईक

राज्यपाल ने कविता संकलन 'भारत का श्रृंगार' का किया विमोचन



लखनऊ।


उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने गुरूवार को राजभवन में तैनात उत्तर प्रदेश पुलिस के निरीक्षक कुलदीप सिंह की कविता संकलन 'भारत का श्रृंगार' का विमोचन किया। संकलन में 76 कविताओं को शामिल किया गया है। 
इस अवसर पर राज्यपाल की पत्नी कुंदा नाईक, पुत्री विशाखा कुलकर्णी सहित कुलदीप सिंह के पारिवारिक सदस्य भी उपस्थित थे। राज्यपाल इससे पूर्व कुलदीप द्वारा लिखे गये भजन संग्रह की सीडी 'बूटी ले आये हनुमान' का विमोचन कर चुके हैं।
राज्यपाल ने निरीक्षक कुलदीप सिंह को बधाई देते हुए कहा कि कविता लिखना मन के भाव को शब्दों के रूप देने जैसा कार्य है। पुलिस कर्मी यदि अपने कर्तव्य के साथ-साथ संवेदनशील होता है, तो वह दूसरों के दुःख-दर्द को ज्यादा समझ सकता है। उन्होंने कहा कि काव्य संकलन का शीर्षक 'भारत का श्रृंगार' स्वतः कवितायें पढ़ने के लिये प्रेरित करता है।
कुलदीप सिंह द्वारा 'उत्तर प्रदेश गान' भी लिखा गया है जिसे बालीवुड गायक सोनू निगम ने स्वरबद्ध एवं संगीतबद्ध विपीन पटवा ने किया है। उत्तर प्रदेश गान के बोल 'भारत की शान उत्तर प्रदेश है'। यह गीत उत्तर प्रदेश स्थापना दिवस पर उप राष्ट्रपति एम0 वेंकैया नायडु ने लोकार्पित भी किया था। श्री सिंह की कविताओं की प्रशंसा राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द, उप राष्ट्रपति एम0 वेंकैया नायडु तथा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी कर चुके हैं। कुलदीप 1996 बैच के पुलिस अधिकारी हैं।



Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन