बार का इतिहास बरकरार, नये अध्यक्ष-सचिव ही फहरायेंगे झंडा

सुलतानपुर।


आजादी से लेकर आज तक देश की सभी लड़ाइयों में अधिवक्ताओं का अहम योगदान रहा। यह बातें बार एसोसिएशन के नवनिर्वाचित पदाधिकारियों की औपचारिक घोषणा को लेकर बुलाई गई बैठक में बतौर अतिथि पहुँचे राज्यमंत्री महेंद्र सिंह ने कही। इस मौके पर बार काउंसिल ऑफ उत्तर प्रदेश के उपाध्यक्ष प्रशांत सिंह अटल भी मौजूद रहे। 
शुक्रवार को अधिवक्ता संघ के नव निर्वाचित पदाधिकारियों के औपचारिक घोषणा को लेकर साधारण सभा की बैठक हुई। जिसमे नव निर्वाचित पदाधिकारियों के जीत की घोषणा की गयी। बार काउंसिल ऑफ यूपी के उपाध्यक्ष प्रशांत सिंह अटल व अधिवक्ता अरविंद सिंह राजा आदि ने बतौर अतिथि पहुँचे राज्यमंत्री महेंद्र सिंह को स्मृति चिन्ह भेंटकर स्वागत किया। राज्यमंत्री महेंद्र सिंह ने विजयी प्रत्याशियों को जीत की बधाई एवं शुभकामना देते हुए कहा कि आजादी से लेकर आज तक की सभी लड़ाइयों में अधिवक्ता समाज का अहम योगदान रहा है। उन्होंने इस दौरान अधिवक्ताओं की मांग पर दो वाटर कूलर जल्द ही उपलब्ध कराने की बात कही, साथ ही उन्होंने टीन शेड समेत अन्य समस्याओं के लिए मुख्यमंत्री से वार्ता कर तत्काल निदान कराने का आश्वासन दिया। 
कार्यक्रम में बार काउंसिल यूपी के उपाध्यक्ष प्रशांत सिंह अटल ने विजयी प्रत्याशियों से सभी अधिवक्ताओ के हित में कार्य करना ही उनका मुख्य दायित्व बताया, वहीं नव निर्वाचित बार अध्यक्ष वीरेंद्र कुमार चतुर्वेदी ने अधिवक्ताओं के स्वाभिमान व सम्मान के साथ किसी भी प्रकार का समझौता न करने का विश्वास दिलाया। नव निर्वाचित सचिव रामतीर्थ दूबे ने भी अधिवक्ता हित में सदैव ही कार्य करने का भरोसा दिया। अन्य विजयी पदाधिकारियों ने भी अपने पद का जिम्मेदारियों से निर्वाह्न करने का आश्वासन दिया। अधिवक्ताओं ने बार में मची रार के बाद मामले का हल निकालकर शांतिपूर्ण चुनाव सम्पन्न कराने में अहम भूमिका निभाने वाले प्रशांत सिंह अटल के प्रति आभार प्रकट किया। श्री अटल के प्रयास से पलटने के कगार पर पहुंचा प्रति वर्ष 15 अगस्त के अवसर पर नये अध्यक्ष-सचिव के जरिये झंडा फहराने का इतिहास बरकरार रह गया। जबकि मचे विवाद के बाद नये अध्यक्ष-सचिव के बजाय अन्य किसी के जरिये झंडा फहराने का पूर्ण अनुमान लगाया जा रहा था। 


 


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन