पर्यावरण संरक्षण एवं मिट्टी में मृदा संवर्धन में वृक्षों की महत्वपूर्ण भूमिका : अस्थाना

लखनऊ।


वृक्ष आदिकाल से ही मानव जीवन के लिये उपयोगी रहे हैं। मनुष्य के जीवन यापन में वृक्ष महत्वपूर्ण भूमिका निभाते रहे हैं। वृक्षारोपण से जहां हम एक ओर वृक्षों की संख्या में वृद्धि कर सकते हैं, वहीं दूसरी ओर पर्यावरण संरक्षण में भी अहम भूमिका निभा सकते हैं। वृक्ष प्राणवायु ऑक्सीजन उत्सर्जित करते हैं, जबकि वे कार्बन डाई ऑक्साईड ग्रहण करते हैं। इस प्रकार वृक्षारोपण से ग्रीनहाउस प्रभाव के रोकथाम में सहायता मिलती है। पर्यावरण संरक्षण एवं मिट्टी में मृदा संवर्धन के लिये वृक्षों की महत्वपूर्ण भूमिका है।
यह विचार सूचना विभाग के फिल्म निर्माण अधिकारी, संजय कुमार अस्थाना ने अधिवक्ता जन सेवा संस्थान द्वारा शहीद स्मारक पर आयोजित वृक्षारोपण कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि व्यक्त किये। उन्होंने कहा कि वृक्षों की जड़ों से मिट्टी की कटान कम होती है और वृक्ष भूमिगत जल को संचित रखने में सहायक होते हैं। उन्होंने कहा कि वृक्षारोपण के अनेक लाभ है, इसलिए प्रदेश सरकार द्वारा प्रतिवर्ष जुलाई माह में वन महोत्सव मनाया जाता है। वृक्ष सच्चे मित्र की भांति, मनुष्य एवं सम्पूर्ण जीव मण्डल की निष्पक्ष रूप से निःस्वार्थ सेवा करते हैं।
कार्यक्रम में संस्थान के अध्यक्ष एवं निदेशक अजित कुमार एडवोकेट, महामंत्री प्रो0 (डॉ0) वी0जी0 गोस्वामी, जिलाध्यक्ष चन्दन कुमार वर्मा एडवोकेट, अरूण कुमार शुक्ला एवं श्री सोहन वर्मा आदि उपस्थित रहे।


 


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन