विकास कार्य में लापरवाही किसी भी दशा में क्षम्य नहीं होगी : उप मुख्यमंत्री


सोशल सेक्टर की योजनाओं का लाभ हर पात्र व्यक्ति को प्रदान करने के दिए निर्देश 


आजमगढ़।


उप मुख्यमंत्री उ0प्र0 केशव प्रसाद मौर्य की अध्यक्षता में सर्किट हाउस आजमगढ़ के सभागार में विकास कार्यो की समीक्षा बैठक जनपद स्तरीय अधिकारियों के साथ सम्पन्न हुई। इस अवसर पर उप मुख्यमंत्री द्वारा प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना, प्रधान मंत्री आवास योजना ग्रामीण/शहरी, स्वास्थ्य, विद्युत, खाद्यान्न वितरण, भू-माफियां, पेंशन सेवाएं, चकबन्दी, सड़क आदि बिन्दुओं पर समीक्षा किया गया।
प्रधान मंत्री किसान सम्मान निधि योजना की समीक्षा में जिलाधिकारी द्वारा बताया गया कि जनपद में 6,06,572 लाख किसान है, जिसमें से 4,83,939 किसानों को खाते में पैसा अन्तरित किया जा चुका है। 55000 किसानों का डाटा मिसमैच है जिसे एसडीएम स्तर से ठीक कराया जा रहा है।  उप मुख्य मंत्री ने निर्देश दिए कि जो डाटा अभी संशोधित करने है उसे संशोधित करते हुए 3 दिन के अन्दर फीड कराये तथा शेष सभी पात्र किसानों का डाटा 31 अगस्त 2019 तक पूर्ण रूप से फीड कराये तथा वरासत, दाखिल-खारिज प्रकरणों का निस्तारण उच्च प्राथमिकता के आधार पर करे ,जिससें किसान प्रधान मंत्री किसान सम्मान निधि योजना से लाभान्वित हो सके।
प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण/शहरी की समीक्षा में उन्होने कहा कि इस योजना में बचे हुए पात्र लाभार्थी को आवास दिलाये। उन्होने जिलाधिकारी को निर्देश दिए कि इस योजना की गहन मॉनिटरिंग करें।
विद्युत विभाग की समीक्षा में उन्होने अधीक्षण अभियन्ता विद्युत से कहा कि अभी भी जो जले हुए ट्रान्सफार्मर बनने बाकी है, उन्हे एक सप्ताह के अन्दर ठीक कराये तथा जिस क्षेत्र में सूचना प्राप्त होती है कि ट्रान्सफार्मर खराबध्जल गया है उसे जल्द से बदलना सुनिश्चित करे। इसी के साथ ही ट्रान्सफार्मर विभाग के माध्यम से भेजवाये।
खाद्यान्न वितरण की समीक्षा में उन्होने कहा कि खाद्यान्न वितरण में काला बाजारी नही होना चाहिए, इसकी मॉनिटरिंग हेतु जिलाधिकारी को निर्देश दिए तथा  खाद्यान्न का वितरण ई-पॉस मशीन से ही कराये। खाद्यान्नों के निकासी से लेकर कोटेदार तक पहॅुचने तक प्रत्येक चरणों पर तौल कराये ,जिससे कोटेदार को मानक के अनुसार खाद्यान्न प्राप्त हो। उन्होने कहा कि वृद्ध, विधवा, विकलांग पेंशन में पात्र लाभार्थी नही छूटना चाहिए। इस पर जिलाधिकारी ने बताया कि जनपद प्रत्येक ग्रामों में लोक कल्याण शिविर आगामी 25 से 31 अगस्त 2019 तक लगाया जायेगा, जिसमें वृद्ध, विधवा, दिव्यांग पात्र लाभार्थियों के फार्म भरवाकर उनको पेंशन का लाभ दिलाया जायेगा, इसके लिए जिला विकास अधिकारी को नोडल अधिकारी बनाया गया है। इसके सफल संचालन के लिए लेखपाल व सचिवों की ड्यूटी लगायी जायेगी, तथा इस बात का प्रमाण देंगे कि इस ग्राम में कोई वृद्ध, विधवा, दिव्यांग पात्र लाभार्थी नहीं छूटा है। 
मुख्यमंत्री द्वारा ग्राम कुन्दनपुर में सड़क की हालत ठीक न होने पर कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए अधीक्षण अभियन्ता पीडब्लूडी को निर्देश दिए कि ऐसी सड़कों को जल्द से जल्द ठीक कराना सुनिश्चित करे, जो भी कार्य हो वह गुणवत्तापरक होना चाहिए।
मुख्यमंत्री द्वारा बताया गया कि निराश्रितध्आवारा पशुओं की देखभाल करने के लिए यदि कोई किसान आवारा पशुओं को लेता है तो प्रति गोवंश प्रति माह 900 रू0 तथा अधिक से अधिक 4 गोवंश रख सकता है ।इस प्रकार कोई किसान अधिक से अधिक 4 गोवंश रख कर 3600 रू0 प्राप्त कर सकता है। उन्होने कहा कि इसको किसानों को बताया जाय तथा गोवंश रखने हेतु प्रेरित भी किया जाय, यह पुनीत का कार्य है।
इसी के साथ ही उप मुख्य मंत्री ने सभी जनपद स्तरीय अधिकारियों से कहा कि वह अपने विभागों के कार्य को पूरी ईमानदारी के साथ करे, और अपनी योग्यता का सर्वश्रेष्ठ योगदान देकर अपने जनपद को आगे ले जाये।
इस अवसर पर जिलाधिकारी नागेन्द्र प्रसाद सिंह, पुलिस अधीक्षक त्रिवेणी सिंह, मुख्य विकास अधिकारी आनन्द शुक्ला, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व गुरू प्रसाद, सीएमओ डा0 एके मिश्रा, जयनाथ सिंह, अखिलेश मिश्रा उर्फ गुडडू, विधायक फूलपुर अरूण यादव, सहजानन्द राय, विनोद  सहित समस्त सम्बन्धित जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।


 


Popular posts from this blog

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन