अचानक घर गिरने से दिव्यांग हुआ बेघर

फतेहपुर।


ऐरायां विकास खंड क्षेत्र के चर्चित गावँ घोष में बीते कल अचानक गरीब दिव्यांग का घर गिर जाने की वजह से वो बेघर हो गया है। इस मामले को लेकर पास पड़ोसियों ने भी चिंता जताई है।
जानकारी के अनुसार वृद्ध राधेश्याम सोनी पत्नी चमेली देवी बीते लगातार वर्षों से प्राकृतिक की मार झेल रहे हैं। बताते चलें कि वृद्ध दिव्यांग राधेश्याम सोनी चार साल पहले अचानक तबीयत बिगड़ने की वजह से फालिस की चपेट में आकर दिव्यांग हो गया। उससे पहले पत्नी भी फालिस का शिकार होकर विकलांग हो गई। घर के पालन पोषण के लिए विकलांग का पुत्र रजत सोनी सहारा था। पर बीते कुछ वर्षों पहले वह भी भगवान को प्यारा हो गया। जिसके चलते वृद्ध विकलांग पति पत्नी का कोई सहारा भी नही जो घर की जिम्मेदारियों का बोझ उठा सकें। पास पड़ोसियों व ग्रामीणों की मदद से जेसीबी मशीन को बुलवाकर गिरे घर से पीड़ित का सामान निकाला गया। जबकि पीड़ित के घर में खाने के लिए एक दाना भी नहीं है और ना ही पूंजी जिससे वह अपना पालन पोषण कर सके। गौरतलब यह है कि दिव्यांग दम्पति को शासन की सैकड़ों योजनाओं का लाभ भी प्राप्त नहीं हो पा रहा है। जबकि शासन की तरफ से करोड़ों रुपए जिला स्तर पर गरीबों के हित में लगाने के लिए ग्राम पंचायत के खाते में आते हैं। परन्तु ग्राम पंचायत की बेरुखी के चलते शासन की योजनाओं का गरीब लाभ नहीं उठा पाता। वृद्ध दिव्यांग दम्पति ने शासन एवं प्रशासन से मदद की गुहार लगाई है।


 


Popular posts from this blog

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन