प्रेरणा ऐप शिक्षकों को लिए उपयोगी : अपर मुख्य सचिव

लखनऊ।


सूबे के अपर मुख्य सचिव बेसिक शिक्षा विभाग, रेणुका कुमार ने बताया कि प्रेरणा ऐप होने के बाद प्रत्येक दिन डाटा अपलोड करने वाले जनपद-बाराबंकी, कानपुर नगर, कौशाम्बी, वाराणसी, प्रतापगढ़ एवं लखनऊ के कतिपय महिला एवं पुरूष शिक्षकों से ऐप के लाभ एवं विशिष्टियों के सम्बन्ध में स्वयं फीड बैक प्राप्त किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि बातचीत में शिक्षक एवं शिक्षिकाओं द्वारा प्रेरणा ऐप की प्रशंसा की गयी। इस वार्ता में कौशाम्बी के एक शिक्षक द्वारा अवगत कराया गया कि प्रेरणा ऐप बेसिक शिक्षा विभाग के लिए वरदान जैसा है, क्योंकि अब उनके पास इस आशय का प्रमाण भी है कि वे विद्यालय में नियमित आते हैं एवं समय से उपस्थित रहते हैं। शिक्षक द्वारा यह भी अवगत कराया गया कि पूर्व में उन्हें संकुल प्रभारी द्वारा परेशान किया जाता था एवं विद्यालय में समय से आने के बाद भी विद्यालय में देर से पहुंचने के सम्बन्ध में पत्र लिखा जाता था, किन्तु प्रेरणा ऐप के कारण उनके पास उपस्थिति का सटीक प्रमाण है, जिसके कारण अब वह लगन से अध्यापन का कार्य कर पाते हैं।
अपर मुख्य सचिव ने बताया कि महिला शिक्षिकाओं द्वारा अवगत कराया गया कि प्रेरणा ऐप के सिक्योर्ड सिस्टम पर होने के कारण उन्हे फोटो अपलोड करने में कोई असुविधा नहीं है एवं उनके द्वारा प्रेरणा ऐप के विभिन्न माड्यूल्स को बेसिक शिक्षा विभाग के लिए अत्यन्त उपयोगी बताया गया।
रेणुका कुमार ने प्रेरणा ऐप के प्रारम्भ होने से अद्यतन ऐप पर नियमित उपस्थिति दर्ज करने वाले शिक्षक एवं शिक्षिकाओं की प्रशंसा की। साथ ही शिक्षक एवं शिक्षिकाओं से ऐप डाउनलोड करने तथा इसके माध्यम से कायाकल्प मॉड्यूल में विद्यालय की आधारभूत सूचनाएं अपलोड करने एवं मानव सम्पदा माड्यूल के माध्यम से आनलाइन अवकाश उपभोग एवं सेवा पुस्तिका अपडेट कराने हेतु अपील भी की गयी है। इसी प्रकार शिक्षा निदेशालय के अधिकारियों द्वारा भी अन्य शिक्षको से भी वार्ता कर फीड-बैक प्राप्त किये जा रहे हैं।                


 


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन