सरकारी जमीनों पर अवैध कब्जे की शिकायतों का डीएम ने लिया संज्ञान

सीडीओ व सभी एसडीएम को जारी किए निर्देश
लापरवाह लेखपाल व ग्राम प्रधान के विरूद्ध होगी कठोरतम कार्यवाही


गोण्डा।


जिलाधिकारी डा0 नितिन बंसल ने जनता दर्शन के  दौरान ग्राम सभाओं की सुरक्षित व सार्वजनिक श्रेणी की भूमियों पर अतिक्रमण व चिन्हांकन से सम्बन्धित प्रार्थनापत्र आए दिन प्राप्त होने के दृष्टिगत मुख्य विकास अधिकारी व सभी उपजिलाधिकारियों से अपेक्षा की है कि वे समस्त ग्राम प्रधानों व हल्का लेखपालों को निर्देशित करें कि वे स्वविवेक के अनुसार ग्राम सभा की सार्वजनिक व सुरक्षित भूमियों का चिन्हांकन कर उन्हें अवैध कब्जे से मुक्त कराएं।
जिलाधिकारी ने कहा है कि ऐसे मामलों के प्रायः प्रार्थनापत्र प्राप्त होने से स्पष्ट है कि भूमि प्रबन्ध समिति के अध्यक्ष, ग्राम प्रधान व सचिव हल्का लेखपाल द्वारा अपने पदेन दायित्वों का निर्वहन स्वविवेक से नहीं किया जा रहा है। यह स्थिति गम्भीर एवं चिन्तनीय है। उन्होंने पदेन दायित्वों व कर्तव्यों से विमुख ग्राम प्रधानों व लेखपालों के विरूद्ध कठोरतम कार्यवाही किए जाने तथा भविष्य में ऐसे ग्राम प्रधानों व लेखपालों जिनके विरूद्ध विभागीय कार्यवाही प्रस्तावित अथवा प्रचलित हो, उनमें जांचोपरान्त ऐसे प्रकरण भी अध्यारोपित किए जाने की अपेक्षा की है जिससे ऐसी शिकायत करने के लिए आम जनमानस को विवश न होना पड़े और शासन की मंशा शत-प्रतिशत फलीभूत हो सके।


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

मंत्र की उपयोगिता जांचें साधना से पहले