सीमांत, छोटे एवं मझोले उद्यमियों के व्यवसाय को आगे बढ़ाने में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ी जायेगी : मंत्री

लखनऊ।


उत्तर प्रदेश के सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम राज्यमंत्री चौधरी उदयमान सिंह ने कहा कि राज्य सरकार उद्यमियों के हितों संरक्षण हेतु पूरी तरह गम्भीर है। सीमांत, छोटे एवं मझोले उद्यमियों के व्यवसाय को आगे बढ़ाने में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ी जायेगी।
सिंह ने यह विचार आज यहां इन्दिरा गांधी प्रतिष्ठान में आयोजित दो दिवसीय ओडीओपी उद्यम समागम में बतौर मुख्य अतिथि के रूप में व्यक्त किये। इस अवसर पर चिकनकारी बुकलेट का विमोचन एवं ओडीओपी फिल्म का प्रदर्शन भी किया गया। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश की कारीगरी पूरे विश्व में विख्यात है। हर जिले में गुणवत्तापरक विशिष्ट उत्पादों मौजूद है। राज्य सरकार ने जिलें में चिन्हित उत्पादों को बढ़ावा देने और वैश्विक पहचाने दिलाने के लिए ओ0डी0ओ0पी0 कार्यक्रम शुरू किया है।
उल्लेखनीय है कि हर जिले में दो दिवसीय ओडीओपी उद्यम समागम का आयोजन किया जा रहा है। इसी कड़ी में आज लखनऊ जनपद में इसका किया गया। कार्यक्रम में ओडीओपी एवं विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के 50 लाभार्थियों को टूलकिट वितरित की गयी। साथ ही राष्ट्रीय हस्तशिल्प पुरस्कार से सम्मानित 12 शिल्पकारों को अंगवस्त्र प्रदान कर उन्हें सम्मानित किया गया। इसके अतिरिक्त जनपद के उद्यमियों व उद्यमी संगठनों के पदाधिकारियों को उद्योग क्षेत्र में उनके सक्रिय योगदान  हेतु सम्मानित  किया गया। प्रधानमंत्री मुद्रा योजना मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना तथा एक जनपद एक उत्पाद योजना से लाभान्वित कुशल/सफल व्यक्तियां को भी सम्मानित किया गया।
इसके अलावा विभाग द्वारा संचालित विभिन्न ऋण योजनाओं के तहत 50 लाभार्थियों को ऋण स्वीकृत पत्र दिये गये। बायर सेलर मीट भी हुई। कार्यक्रम में रोजगार सृजन, औद्योगिक एवं एम0एस0एम0ई0 पालिसी, जेम, निवेश मित्र ओडीओपी, निर्यात, डिजाइन एवं मार्केटिंग इत्यादि विषयों पर तकनीकी सत्रों का भी आयोजन किया गया।
उद्यमी समागम के अवसर पर प्रतिष्ठान में हीं दो दिवसीय उत्पाद प्रदर्शनी भी लगाई गई है। जिसमें ओडीओपी उत्पाद (चिकनकारी एवं जरी जरदोजी) तथा एम.एस.एम.ई. उत्पादों का प्रदर्शन किया गया है। विभिन्न विभागों  यथा- खादी ग्रामोद्योग आयोग, खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड, हैण्डलूम विभाग, खाद्य प्रसंस्करण विभाग, यू0पी0आई0डी0 से सम्बन्धित उत्पादों तथा बैंको द्वारा स्टाल भी लगाये गये है।
कार्यक्रम  में प्रमुख सचिव सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम डा0 नवनीत सहगल, जिलाधिकारी लखनऊ श्री कौशल राज शर्मा तथा विशेष सचिव एम0एस0एम0ई अमित सिंह मौजूद थे। इनके अतिरिक्त जनपद के उद्यमियों/हस्तशिल्पियों, विभिन्न  विभागों  के अधिकारियों  तथा  बैंकों  के प्रतिनिधियों  सहित  लगभग 600 लोगो  द्वारा प्रतिभाग किया गया।  


 


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन