आज 450 मिलियन लोग वैश्विक स्तर पर मानसिक विकारों से पीड़ित: डा. हरिनाथ

जौनपुर।

नगर के नईगंज स्थित श्री कृष्णा मानसिक रोग चिकित्सालय में विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस पर गुरूवार को जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। यह आयोजन विश्व स्वास्थ्य संगठन व वर्ल्ड फेडरेशन आफ मेंटल हेल्थ द्वारा मानसिक बीमारियों के प्रति जागरूकता फैलाने और अपने मन का आत्मनिरीक्षण करके अपने व्यक्तित्व के विकारों एवं मानसिक विकृतियों को सक्रिय रूप से पहचानने के प्रति जागरूक करने हेतु किया गया।
इस मौके पर डा. हरिनाथ यादव ने कहा कि पूरी दुनिया में 10 अक्टूबर को विश्व मानसिक दिवस के रूप में मनाया जाता है। वर्ल्ड फेडरेशन आफ मेंटल हेथ्य ने विश्व के लोगों में मानसिक स्वास्थ्य देखभाल को यथार्थवादी बनाने के लिये वर्ष 1992 में विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस की भी स्थापना की गयी। डा. यादव ने बताया कि विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार 450 मिलियन लोग वैश्विक स्तर पर मानसिक विकारों से पीड़ित हैं। विश्व में हर 4 व्यक्तियों में से एक जीवन के किसी मोड़ पर मानसिक विकास या तंत्रिका सम्बन्धी विकारों से प्रभावित है। मानसिक स्वास्थ्य समस्याओं से पीड़ित 10 से 19 वर्ष के व्यक्तियों को वैश्विक रोग भार में 16 प्रतिशत हिस्सेदारी हैै। उन्होंने कहा कि भारत डिप्रेशन से बुरी तरह प्रभावित देशों में शामिल है। वर्ष 2015 में 7 लाख लोगों ने आत्महत्या किया तथा इससे कई गुना ज्यादा लोग आत्महत्या का प्रयास किये हैं।
विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट के अनुसार प्रति 40 सेकेण्ड में हर एक व्यक्ति आत्महत्या का शिकार होता है। इसको देखते हुये विश्व भर में डब्ल्यू.एच.ओ. व वर्ल्ड फेडरेशन आफ मेंटल हेल्थ द्वारा मेन्टल हेल्थ प्रमोशन और आत्महत्या रोकथाम के लिये कार्यक्रम को आयोजित करके लोगों को जागरूक किया जा रहा है।
इस अवसर पर किशन, सूरज, प्रतिमा, लालजी शर्मा, नितिन, अजित, शिव बहादुर, उमानाथ यादव, राधेश्याम यादव, जंग बहादुर यादव सहित तमाम लोग उपस्थित रहे।


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

मंत्र की उपयोगिता जांचें साधना से पहले