गर्भवती महिलाओं की हुई गोदभराई

फतेहपुर।


हसवा ब्लॉक सभागार में राज्य पोषण मिशन के तहत गर्भवती महिलाओं का गोद भराई कार्यक्रम आयोजित हुआ। इसके बाद बच्चों का अन्नप्राशन और पसनी का काम भी धूमधाम से मनाया गया। बाल विकास परियोजना और बाल विकास सेवा एवं पुष्टाहार विभाग के तहत कार्यक्रम हुआ। 6 गर्भवती महिलाओं की गोद भराई और 5 बच्चों का अन्नप्राशन या पसनी कार्यक्रम का आयोजन बड़े ही धूमधाम से किया गया है। कार्यक्रम मे प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र प्रभारी डॉ अनुपम सिंह और इंचार्ज बाल विकास परियोजना अधिकारी शशि अवस्थी ने मां सरस्वती की प्रतिमा में दीप प्रज्वलित कर किया। आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों ने सरस्वती वंदना व स्वागत गीत प्रस्तुत किया। कार्यक्रम मे शशि अवस्थी ने बच्चों के वजन, बच्चों के खानपान की जानकारी दी। जिन कार्यकत्रियो के क्षेत्र के बच्चे कुपोषित मिले उनको कपोषण समाप्त करने की भी जानकारी दी।
चिकित्सा प्रभारी डॉ अनुपम सिंह ने बताया कि गर्भवती महिलाएं समय से टीके लगवाएं। साथ ही बीमारियों से स्वयं को तथा आने वाली संतान को बचाएं। बच्चे के पोषण के बारे में भी बताया। उन्होंने बताया कि घरों मे सफाई सबसे प्रमुख है। गंदगी से ही घरों मे बीमारियां जन्म लेती है। जिसके बाद बच्चे कुपोषित हो जाते है। सुपरवाइजर राजेश्वरी द्विवेदी, फूलमती, अंजू रानी, अनीता, अनीश फातिमा ने भी बच्चों को कुपोषण खत्म करने लिये आवश्यक जानकारी दी। कार्यक्रम मे गर्भवती महिला रोशनी, मनीषा देवी, अनीता, सावित्री, कुसुम, फहमीदा की गोद भराई की गई। जिसमें उन्हें शगुन को पूरा सामान दिया गया। बच्चों की खीर खिलाकर उनका अन्नप्राशन संस्कार पूरा किया। अंत में आंगनबाड़ी सेंटरों से पहुंचे बच्चों को बैठाकर आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं और सहायिकाओं ने भोजन करवाया।


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

मंत्र की उपयोगिता जांचें साधना से पहले