काम नहीं करने वाले कार्मिक को किया जाएगा अनिवार्य सेवानिवृत्त: अपर मुख्य सचिव

वाराणसी में शीघ्र ही होगी पर्यटन थाना की स्थापना
वाराणसी।

उ.प्र. के अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने शनिवार को यहां वाराणसी की कानून-व्यवस्था की समीक्षा की। उन्होंने पुलिस थानों में लम्बित प्रकरणों के तत्परता से निस्तारण करने के निर्देश दिये। थाना कैंट, लंका, भेलूपुर, सिगरा थानों की समीक्षा के लिए एडीजी व आईजी से अपेक्षा की गई। अवस्थी ने कहा कि काम नहीं करने वाले कार्मिक को अनिवार्य सेवानिवृत्त किया जाएगा। उन्होंने क्राइम मामलों में प्रॉसीक्यूशन की भी समीक्षा की। जिसमें 06 एडीजीसी द्वारा मामलों में दोषसिद्ध नगण्य कराने पर असंतोष व्यक्त किया और जवाबदेही तय करने के निर्देश दिए। उन्होंने पाॅस्को कोर्ट में सजा दिलाने की मजबूत पैरवी किए जाने की बात कही। जनपद में विशेष जरूरत के दृष्टिगत चितईपुर, पांडेपुर, बजरडीहा में नए थानों के स्थापना पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि वाराणसी में शीघ्र ही पर्यटन थाना की स्थापना होगी।
अवस्थी ने बैठक में पुलिस विभाग के विभिन्न निर्माण कार्यों एवं जमीन की जरूरतों का एक-एक कर बिंदुवार समीक्षा की और लंबित प्रकरण एक सप्ताह में निर्णीत करने के निर्देश दिए। अवस्थी ने सीओ पिंडरा से उनके कार्यकाल की क्राइम कंट्रोल कार्यों की आख्या मांगी। एसपी क्राइम से भी उनके कार्यकाल की रिपोर्ट 15 दिन में उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।
अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार ने थाना व पुलिस अधिकारियों के कार्यों की समीक्षा की और कड़ी हिदायत दी कि शिथिलता बरतने वालों को बख्शा नहीं जाएगा। किसी दशा में पुलिस या ट्रैफिक पुलिस द्वारा अवैध वसूली का कृत्य नहीं होना चाहिए। उच्च स्तर के अधिकारी गहन पर्यवेक्षण करें। कुछ मामलों में उन्होंने एडीजी, आई0जी0 तथा एसएसपी से विजिट करने तथा पर्यवेक्षण की रिपोर्ट की अपेक्षा की। उन्होंने कहा कि जनपद में क्राइम कंट्रोल दिखे तथा अपराधियों व गुंडों में भय व्याप्त होना चाहिए।
अधिकारियों ने बताया कि एम पासपोर्ट एप के जरिए 3 दिन में इंक्वायरी व पासपोर्ट बनाने की प्रोसेसिंग होगी। वाराणसी विशिष्ट जनपद है। ट्रैफिक इंप्लीमेंटेशन में वाराणसी प्रदेश में पहले स्थान पर है। खिड़किया घाट मॉडल के रूप में विकसित होगा, जिस पर 32 करोड़ रुपए व्यय होंगे। वाराणसी में 'ट्रैफिक कन्जेशन कम करने के 90 करोड़ रुपए के प्रोजेक्ट तैयार है। गोदौलिया पर दुपहिया वाहन व टाउन हॉल में कार के लिए मल्टीलेवल पार्किंग बनेगी। वाराणसी में ट्रैफिक के 02 लाख 72 हजार ई चालान हुए। ट्रैफिक सिस्टम सुधार से एक्सीडेंट में कमी हुई है।
बैठक में एडीजी बृजभूषण, कमिश्नर दीपक अग्रवाल, आईजी विजय सिंह मीणा, प्रभारी जिलाधिकारी गौरांग राठी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आनंद कुलकर्णी, अपर जिलाधिकारी नगर विनय कुमार सिंह सहित पुलिस अधीक्षक एवं पुलिस उपाधीक्षक उपस्थित रहे।
अपर मुख्य सचिव सूचना ने स्मार्ट सिटी योजना अंतर्गत सिगरा में लगभग 150 करोड़ रुपए की लागत से बने एकीकृत कमांड कंट्रोल सेंटर का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होंने कमांड कंट्रोल सेंटर में एकत्रित डेटा की लाइव कनेक्टिविटी संबंधित थानों से जोड़े जाने पर विशेष जोर देते हुए कहा कि निश्चित रूप से इससे क्राइम कंट्रोल करने में महत्वपूर्ण एवं सार्थक सहयोग मिलेगा। उन्होंने कहा कि लाइव डेटा थानों से जुड़ने का एक बहुत बड़ा फायदा यह मिलेगा कि संबंधित थाना अपने थाना क्षेत्रों में होने वाली घटनाओं की पल-पल की जानकारी पर लाइव नजर रख सकेंगे। अपराधी पलक झपकते पुलिस के गिरफ्त में होंगे।

Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन