महात्मा गांधी व शास्त्री जयन्ती के अवसर पर जनपद भर में रही कार्यक्रमों की धूम

जनपद भर में आयोजित हुए स्वच्छता कार्यक्रम, प्लास्टिक वैन को लेकर निकलीं रैलियां
गोण्डा।


जनपद में 02 अक्टूबर गांधी जयन्ती व शास्त्री जयन्ती सादगी और विविधपूर्ण कार्यक्रमों के आयोजनों के साथ सम्पन्न हुई। आयुक्त देवीपाटन मण्डल श्री महेन्द्र कुमार ने आयुक्त सभागार में पूज्य बापू व शास्त्री जी के चित्र पर माल्यार्पण किया तथा उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित किए। जिलाधिकारी डा0 नितिन बंसल ने कलेक्ट्रेट में ध्वजारोहण किया तथा सभागार में देश के सच्चे सपूतों के चित्र पर माल्यार्पण किया तथा श्रद्धासुमन अर्पित कर कृतज्ञता ज्ञापित की।
इस अवसर पर आयोजित समारोह में मण्डलायुक्त ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि गांधी जी के विचार आज भी प्रासंगिक हैं। आज का दिन संकल्प लेने का दिन है कि सत्य, अहिंसा, स्वच्छता, महिलाओं का उत्थान, साम्प्रदायिक एकता के लिए संकल्पित होकर इसे अपने जीवन का आदर्श बनाया जाए। उन्होंने कहा कि विश्व के महापुरूषों में बापू जी का स्थान सबसे ऊंचा है। उन्होंने अपने स्वयं के लिए कुछ भी नहीं किया तथा इस धरती पर सब कुछ पाया और सब कुछ दे दिया। ऐसे महापुरूष की दिव्यता ही थी कि वे हमारे देश के राष्ट्रपिता बने। उन्होंने सभी का आहवान किया कि प्लास्टिक मुक्त भारत बनाने हेतु संकल्पबद्ध होकर अपना योगदान दें। उन्होंने शास्त्री जी की सादगी, ईमानदारी उनके व्यक्तित्व के विभिन्न पहलुओं पर प्रकाश डालते हुए कहा कि इन दोनों महापुरूषों के अच्छे विचार को जीवन में उतारने की आवश्यकता है।
समारोह को अपर आयुक्त प्रशासन राकेश चन्द्र शर्मा, जेडीसी अनिल कुमार पाण्डेय, अपर आयुक्त न्यायिक कमलेश कुमार सिंह, मण्डलीय शासकीय अधिवक्ता वेद प्रकाश श्रीवास्तव, अधिवक्ता आरएस वर्मा सहित अन्य गणमान्य व्यक्तियों ने भी सम्बोधित किया। इस अवसर पर जीजीआईसी की छात्राओं ने बापू के प्रिय भजनों का काव्यपाठ किया। उनके द्वारा प्रस्तुत गीत 'आज के दिन दो फूल खिले थे, जिनसे महका हिन्दुस्तान'' की सभी लोगों द्वारा सराहना की गई। आयुक्त द्वारा छात्राओं को पुरस्कृत भी किया गया।
इसके पश्चात आयुक्त व डीआईजी डा0 राकेश सिंह ने लायन्स क्लब गोण्डा अवध के तत्वाधान में आयोजित शहर में गुरूनानक चैक से पर्यावरण जागरूकता अभियान की विशाल रैली का शुभारम्भ किया। इस अवसर पर आयुक्त व डीआईजी ने अपनी ओर से कपड़े के थैलों का वितरण भी किया तथा लोगों को प्लास्टिक का प्रयोग बन्द करने के लिए प्रेरित किया। जागरूकता रैली गुरूनानक चैक से होकर एकता तिराहे से होते हुए शहर के विभिन्न क्षेत्रों में निकली। जिसमें लायन्स क्लब के डाइरेक्टर दिलीप सिंह, प्रथम गर्वनर कमल शेखर गुप्ता, अध्यक्ष मनीष दूबे, सचिव अनिल अग्रवाल आदि रहे।
वहीं कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित समारोह में जिलाधिकारी डा0 नितिन बंसल ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि गांधी जी व शास्त्री जी सच्चे मायने में देश के निर्माता हैं। विश्व में यदि कहीं भी अहिंसा का नाम आता है तो उसमें सबसे पहला नाम महात्मा गांधी जी का लिया जाता है। इसी प्रकार सादगी और ईमानदारी की मिशाल के तौर पर देश के दूसरे प्रधानमंत्री रहे लाल बहादुर शास्त्री का नाम बड़े ही सम्मान के साथ लिया जाता है। स्वच्छता जो कि गांधी जी का सबसे प्रिय विषय रहा है, आज भी हम सबके के लिए प्रेरणा देने का काम कर रहा है। गांधी जी की 150वीं जयन्ती के अवसर पर देश को खुले में शौंच से मुक्त घोषित किया गया है परन्तु स्वच्छता को लेकर अभी लम्बी लड़ाई बाकी है जिसमें जनसामान्य की सहभागिता की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि गांधी जी के विचारों से लगभग सभी लोग अवगत हैं परन्तु उनके आदर्शों एवं विचारों पर बहुत कम ही लोग अमल कर पाते हैं। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने जनदवासियों से अपील की कि वे प्रधानमंत्री जी द्वारा शुरू किए गए स्वच्छता ही सेवा अभियान व सिंगल यूज प्लास्टिक पर वैन अभियान में शामिल हों और संकल्प लें कि वे अपने-अपने कार्यालय, घर के आस-पास कहीं भी गन्दगी नहीं करेगें। समारोह में अपर जिलाधिकारी रत्नाकर मिश्र, सीआरओ आर0आर0 प्रजापति, अपर उपजिलाधिकारी महेन्द्र सिंह व गुलाम सरवर, मुख्य कोषाधिकारी तथा कलेक्ट्रेट के कर्मी मकसूद खान ने भी अपने विचार व्यक्त किए। इस दौरान जीजीआईसी की छात्राओं ने देशभक्ति तथा बापू के भजन गाकर सुनाए। जिलाधिकारी द्वारा छात्राओं व अध्यापिकाओं को पुरस्कृत किया गया। इस अवसर पर कलेक्ट्रेट परिवार के सभी अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहे।


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

मंत्र की उपयोगिता जांचें साधना से पहले