नाबालिग बहने अपने प्रेमियों के साथ रफूचक्कर

मोहम्मदी खीरी।


''मै तुझसे मिलने आयी मन्दिर जाने के बहाने'' इस फिल्मी गाने की तर्ज पर ही सेमजा जानीपुर की दो नाबालिग बहने अपने प्रेमियो के साथ रफूचक्कर हो गयी। किसी अनहोनी व अपहरण की आंशका से शंकित परिवार जनो को प्रेमी के सग भागने की बात तीन दिन के बाद जब पता लगी। जब इन बालिकाओ ने घर पर फोन कर मां व भाई से बात की। तब इसका खुलासा हुआ कि बरोसी पूजा मेला देखने गयी नाबालिग बालिकाए प्रेम प्रसंग में भागी है। फोन आने से पूर्व परिवारीजन अपहरण की शंका व्यक्त कर रहे थे। जबकि पुलिस पहले दिन से ही प्रेम प्रसंग की शंका व्यक्त कर रही थी। पुलिस ने बालिकाआंे के पिता राजकुमार की तहरीर पर दो लोगो को नामजद करते हुए मुकदमा दर्ज कर लिया है।
पसगवंा कोतवाली अन्तर्गत ग्राम सेमरा जानीपुर निवासी राजकुमार पुत्र कढ़ेल का पूरा परिवार बरबर में हर वर्ष आयोजित होने वाली नवरात्रि के समापन पर बरोसी पूजा मेले में मेला देखने आया था। मेले से ही इनकी 14 व 16 वर्षीय दो पुत्रिया ''सोनी और मोनी'' अपने प्रेमियो के संग फुर्र हो गयी थी। परिवार जन किसी अनहोनी व अपहरण कर लिये जाने की शंका से भयभीत थे। इन दोनो के लापता होने की सूचना बरबर चैकी पर भी दी गयी थी। पुलिस ने दूसरे दि नही शंका व्यक्त की थी कि कही वो प्रेम प्रसंग के चलते तो नहीं चली गयी। लेकिन परिवार जन पुलिस की इस थ्यूरी को मानने को तैयार नहीं थी। दो दिन बाद इन सोनी और मोनी का अलग-अलग मोबाइल नम्बरो से फोन आये कि ये दोनो भौनापुर में ईट भट्ठे के मुनीम के पुत्र सजवान सोनी को और भट्ठे पर काम करने वाले मोनू कश्यप पुत्र कमल कश्यप् पिसावा सीतापुर मोनी को ले गया है। तब राजकुमार ने पसगवां कोतवाली में उक्त दोनो को नामजद करते हुए प्रार्थना पत्र दिया। जिसके आधार पर पुलिस ने मु0अ0सं0 459ध्19 धारा 363, 366 के अन्तर्गत मुकदमा दर्ज कर लिया है। जिसकी विवेचना उपनिरीक्षक सुनील कुमार को सौपी गयी है। उन्होने बताया कि बालिकाओ को शीघ्र बरामद कर लिया जायेगा।


 

 

Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन