पढ़े लखनऊ, बढ़े लखनऊ अभियान का आयोजन



सरकारी एवं निजी विद्यालयों एवं कालेजों के 10 लाख विद्यार्थियों ने किया प्रतिभाग
राज्यपाल ने भी विद्यार्थियों संग किया अध्ययन
लखनऊ।

छात्र-छात्राओं में पढ़ाई के प्रति अभिरूचि पैदा करने के उद्देश्य से उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनन्दीबेन पटेल के निर्देश पर मंगलवार को लखनऊ जनपद के सभी सरकारी एवं निजी विद्यालयों एवं कालेजों में 'पढ़े लखनऊ, बढ़े लखनऊ' अभियान का आयोजन किया गया जिसमें पूर्वान्ह 11.00 बजे से 11.45 तक लगभग 10 लाख बच्चों ने एक साथ भाग लिया, जो संभवतः विश्व रिकार्ड है।
'पढ़े लखनऊ, बढ़े लखनऊ' अभियान के तहत आज राज्यपाल आनन्दीबेन पटेल ने भी राजकीय इन्टर कालेज, निशातगंज में भाग लिया तथा विद्यार्थियों के बीच 45 मिनट तक पुस्तक का अध्ययन किया। अध्ययन के पश्चात उन्होंने कक्षाओं में जाकर बच्चों से 'पढ़े लखनऊ, बढ़े लखनऊ' अभियान के विषय में जानकारी भी प्राप्त की। बच्चों ने राज्यपाल को बताया कि आज इस कार्यक्रम में भाग लेकर वे बहुत खुश हैं और उन्होंने महापुरूषों एवं ज्ञान से संबंधित पुस्तकों का अध्ययन कर महापुरूषों के जीवन के विषय में ज्ञान प्राप्त किया।
राज्यपाल ने विद्यालय परिसर के निरीक्षण के दौरान पुस्तकालय तथा स्टाफ रूम को भी देखा। पुस्तकालय निरीक्षण के दौरान उन्होंने पुस्तकालय को और सुदृढ़ करने के साथ-साथ सफाई रखने के भी निर्देश दिये।
उल्लेखनीय है कि बच्चों के इंटरनेट, मोबाईल, फेसबुक आदि पर अधिक समय व्यतीत करने एवं पुस्तकों के अध्ययन में दिन-प्रतिदिन कम होती रूचि के मद्देनजर राज्यपाल ने लखनऊ विश्वविद्यालय के कुलपति को लखनऊ में इस अभियान की शुरूआत करने के निर्देश दिए थे जिससे जनपद के सभी सरकारी एवं निजी स्कूलों एवं महाविद्यालयों के बच्चों को आज के दिन 45 मिनट के लिय विषय से हटकर महापुरूषों या अन्य ज्ञानवर्धक पुस्तकों का ही अध्ययन करना था।
इसी क्रम में आज राजभवन में अपर मुख्य सचिव राज्यपाल हेमन्त राव, विशेष सचिव डाॅ0 अशोक चन्द्र सहित सभी कर्मियों ने भी 'पढ़े लखनऊ, बढ़े लखनऊ' अभियान में प्रतिभाग किया।



Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन