उ.प्र. में सड़क सुरक्षा विषय पर विभिन्न प्रतियोगिताओं का हुआ आयोजन

सभी जनपदों में चालकों के लिए स्वास्थ्य शिविर का होगा आयोजन
लखनऊ।

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा आयोजित प्रदेशव्यापी सड़क सुरक्षा सप्ताह के दौरान आज चौथे दिन समस्त जनपदों में कक्षा नौ से 12 तक के छात्रों की सड़क सुरक्षा विषय पर चित्रकला, रंगोली एवं क्विज प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया। प्रतियोगिता में प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को क्रमशः पांच हजार, तीन हजार व दो हजार रूपये की राशि देकर पुरस्कृत किया जायेगा।
यह जानकारी उत्तर प्रदेश के परिवहन आयुक्त धीरज साहू ने आज यहां दी। उन्होंने बताया कि प्रतियोगिता के लिए प्रत्येक जनपद के अधिक से अधिक विद्यालयों की सहभागिता सुनिश्चित की गई है। राजकीय इंटर कॉलेज में अध्ययनरत कक्षा नौ से 12 तक के छात्रों के मध्य चित्रकला, रंगोली व क्विज प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया है। इस प्रतियोगिता में जनपद स्तर पर प्रतिभागी छात्रों द्वारा बनाये गये चित्रों एवं रंगोली के जांचने हेतु एक कमेटी गठित की गई है, जिसमें चित्रकला विषय के शिक्षक, शिक्षिकाएं तथा शिक्षा विभाग के एक अधिकारी को शामिल किया गया है।
श्री साहू ने बताया कि सड़क सुरक्षा सप्ताह के कल पांचवे दिन सभी जनपदों में चालकों हेतु स्वास्थ एवं परिवहन विभाग के सहयोग से स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया जायेगा। इस शिविर में व्यावसायिक तथा परिवहन निगम के चालकों को स्वास्थ्य परीक्षण कराया जायेगा। उन्होंने बताया कि चालकों का स्वास्थ्य परीक्षण निर्धारित स्वास्थ्य परीक्षण कार्ड में दिए गए प्रारूप के अनुसार होगा। ट्रक यूनियन, बस यूनियन एवं टैक्सी, टैम्पो, ऑटो यूनियन के पदाधिकारियों को इस शिविर में आमंत्रित किया गया है, ताकि चालकों की उपस्थिति सुनिश्चित की जा सके। उन्होंने बताया कि छठें दिन बस चालकों/परिचालकों में सड़क सुरक्षा संबंधी जागरूकता लाये जाने हेतु निगम के डिपो में कार्यशाला का आयोजन किया जायेगा। इसमें परिवहन निगम के जिला स्तरीय अधिकारियों द्वारा चालकों से सड़क सुरक्षा संबंधी विभिन्न पहलुओं पर विस्तार से चर्चा की जायेगी।


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

मंत्र की उपयोगिता जांचें साधना से पहले

’’पवन गुरू, पानी पिता, माता धरति महत’’ को अपने जीवन का अंग बनायें : स्वामी चिदानन्द सरस्वती