वृद्ध दिवस पर वृद्धाश्रम बहुआ में विधायक ने किया सम्मानित

फतेहपुर।


अन्तर्राष्ट्रीय वृद्वदिवस समारोह का आयोजन वृद्वाश्रम बहुआ परिसर बांदा सागर रोड पेट्रोल पम्प में मुख्यअतिथि विधायक विकास गुप्ता की अध्यक्षता में सम्पन्न हुआ। विधायक ने वृद्वजनो को टीका लगाकर माल्यार्पण करके स्वागत किया एवं वृद्वदिवस की शुभकामनांए दी। उन्होने अपने सम्बोधन में कहा कि माता पिता और वरिष्ठ नागरिको का कल्याण अधिनियम 2007 के अनुक्रम में उ0प्र0 सरकार द्वारा अंगीकृत करते हुए उ0प्र0 माता-पिता और वरिष्ठ नागरिको का भरण पोषण तथा कल्याण नियमावली 2014 लागू की गयी है, जिसके अन्र्तगत प्रदेश की सभी तहसीलों में उपजिलाधिकारी की अध्यक्षता में भरण पोषण अधिकारी नियुक्त किया गया है तथा प्रत्येक जनपद में जिलाधिकारी की अध्यक्षता में अपील अधिकरण गठित किया गया है तथा तहसीलों में सुलह अधिकारी तैनात किये गये है ऐसे वृद्वजन जिनके पुत्र/पुत्रिया वारिस उनका भरण पोषण नही करते है वह अपनी तहसील के अधिकरण एक निर्धारित प्रारूप पर आवेदन करके भरण पोषण की सुविधा प्राप्त कर सकते है। सम्बन्धित उपजिलाधिकारी द्वारा उक्त आवेदन पर सुनवायी करके अधिकतम 10000 का प्रति माह भरण पोषण दिये जाने का आदेश पारित कर सकते है।
उक्त अधिनियमों के प्रावधान के अन्तर्गत जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक वृद्वजनों के जीवन एवं सम्पत्ति की सुरक्षा के उत्तरदायी होंगे। उक्त नियम के अन्तर्गत प्रदेश के सभी जिलों में 150 की क्षमता का वृद्वाश्रम पी0पी0पी0 माॅडल संचािलत किया जा रहा है। उन्होने उपस्थित लोगो से अपील की कि वृद्वजन देव तुल्य होते है उनकी सेवा करके हमें उनका आर्शिवचन लेने से आयु एवं यश की वृद्वि होती है। कार्यक्रम का संचालन करते हुए जिला समाज कल्याण अधिकारी के0एस0 मिश्र ने कहा कि उ0प्र0 सरकार द्वारा वृद्वजन पालिसी  निर्गत कर दी गयी है जिसके तहत वृद्वजनों के जीवन एवं सम्पत्ति की सुरक्षा स्वास्थ्य सेवा में प्राथमिकता बैंक सुविधाओं में विशेष प्रावधान आदि की व्यवस्था कर दी गयी है। वृद्व आश्रम की प्रबंधक सुश्री गार्गी सिंह द्वारा अवगत कराया गया है कि अप्रैल 2017 से बहुआ में यह वृद्व आश्रम संचालित किया जा रहा है जिसमें पंजीकृत 90 है जिसके सापेक्ष 51 उपस्थित है वृद्व आश्रम मे रिक्त स्थानों को भरे जाने हेतु प्रशासन के सहयोग से प्रयास किया जा रहा है वृद्व आश्रम में निवासरत वृद्वजनों को निश्ुल्क नाश्ता भोजन वस्त्र विस्तर एवं शासकीय अस्पातल के माध्यम से स्वास्थ्य सम्बन्धी सुविधाएं दी जा रही है। इस अवसर पर संस्था के प्रतिनिधि संजय सिंह ने कार्यक्रम में उपस्थिति अतिथि गणों के प्रति आभार व्यक्त किया एवं आश्वासन दिया कि वृद्वाश्रम को अच्छी तरीके से संचालित कराऐंगे।



Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

मंत्र की उपयोगिता जांचें साधना से पहले

’’पवन गुरू, पानी पिता, माता धरति महत’’ को अपने जीवन का अंग बनायें : स्वामी चिदानन्द सरस्वती