Posts

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन

बांसडीह में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में आरक्षण सूची जारी होते ही लोगों में चुनाव को लेकर खलबली मची हुई है जिसे लेकर मंगलवार के दिन मुंन जी गोंड के नेतृत्व में दर्जनों लोगों ने एसडीएम बांसडीह दुष्यंत कुमार मौर्य को जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर ज्ञापन सौंपा ।ज्ञापन के माध्यम से लोगो ने मांग किया कि पंचायत चुनाव में नामांकन के समय प्रमाण पत्र की आवश्यकता है आरक्षण सूची तो जारी हो गई है लेकिन जाति प्रमाण पत्र न होने के कारण सैकड़ों लोग नामांकन करने से वंचित हो जाएंगे जिसको ध्यान में रखते हुए उप जिलाधिकारी बांसडीह दुष्यंत कुमार मौर्य को ज्ञापन देकर तत्काल बनवाने ने की मांग की । इस मौके पर वीरेंद्र गोड़, अनिल गोड़, छोटू गोड़, जितेंद्र गोड़, गब्बर गोड़,दया गोड़, सहित दर्जनों लोग मौजूद रहे

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

भारतीय गणराज्य की जो स्थिति स्वतंत्रता के बाद 1947 में थी, वैसी स्थिति तथा परिस्थिति ना तो 20 वीं सदी में थी, और ना ही आज ही है। वैसे भी किसी देश की विदेश नीति उसके राष्ट्रीय हितों के अनुरूप दूसरे अन्य देशों के साथ आर्थिक राजनीतिक सामाजिक तथा सैनिक संबंधों के पालन में की जाने वाली नीति का संपूर्ण समावेश होती है।समय-समय पर अंतरराष्ट्रीय स्थिति एवं परिस्थिति के अनुरूप हर देश अपनी विदेश नीति में परिवर्तन भी करते जाते हैं। स्वतंत्रता के बाद जवाहरलाल नेहरू बहुत ही महत्वपूर्ण विदेश नीति के प्रेरणा स्रोत थेl उन्हें विदेश नीति का सूत्रधार माना जाता है। प्रधानमंत्री के साथ साथ उन्होंने विदेश मंत्री की भूमिका भी निभाई थी। और वैश्विक निशस्त्रीकरण गुटनिरपेक्षता और पंचशील के सिद्धांतों की नींव रखी थी, उन सिद्धांतों के चलते भारत में तथा तटस्थता सिद्धांतों को अपनाकर युद्ध और विवाद से भारत को दूर रखा।जवाहरलाल जी की मृत्यु के बाद लाल बहादुर शास्त्री प्रधानमंत्री बने उन्होंने विदेश के कार्यों के लिए एक अलग मंत्री रखा भारत के प्रथम विदेश मंत्री डॉ स्वर्ण सिंह बने। 14 माह के कार्यकाल में लाल बहादुर शास्त्

दुल्हन अपनी शादी में दिखेंगी गजब की खूबसूरत, रखें इन बातों का खास ख्याल

Image
शादी में दूल्हा-दुल्हन को हर नजर निहारती है। ऐसे में दोनों का सुंदर दिखना भी जरूरी होता है। दोनों में दुल्हन पर लोगों की सबसे ज्यादा नजर रहती है कि वो कितनी सुंदर लग रही है या नहीं। इसलिए हर लड़की शादी में ऐसा मेकअप करना चाहती है जिससे सबकी नजरें उस पर ही टिकी रहे। इसके लिए वो शादी के कुछ दिन पहले से ही तैयारियां शुरू कर देती हैं। हालांकि, इस दौरान उनके लिए समस्या तब खड़ी हो जाती है जब उन्हें नैचुरल लुक के लिए किसी प्रोडक्ट का सहारा लेना पड़ता है। अगर आप भी दुल्हन बनने जा रही हैं और एक खूबसूरत ब्राइडल नजर आना चाहती हैं तो आइए आपको कुछ ऐसे टिप्स बताते हैं जिन्हें जानने के बाद आप अपनी शादी वाले दिन खूबसूरत नजर आ सकती हैं... शादी से 1 हफ्ते पहले आराम शादी को लेकर घर में कई तरह के काम होते हैं और आप पर भी कई तरह की जिम्मेदारियां हो सकती है। जिससे आपकी खूबसूरती पर असर हो सकता है। ब्यूटी एक्सपर्ट्स कहते हैं कि आप शादी के दिन से 1 हफ्ते पहले से खुदको तनाव मुक्त करने के साथ अपने शरीर को आराम दें। रोजाना सुबह जूस और रात में दूध का सेवन करें। इसके अलावा ज्यादा से ज्यादा पानी का सेवन करें। ऐसा कर

इन प्रसिद्ध जगहों पर जरूर जाएं, एक बार कृष्ण जन्मभूमि मथुरा है बेहद खास,

Image
भगवान कृष्ण की नगरी कहलाई जाने वाला धार्मिक स्थल मथुरा दुनियाभर में पर्यटकों के बीच प्रसिद्ध है। यहां भगवान कृष्ण के दर्शन करने के लिए विश्वभर से पर्यटक आते हैं। ये स्थल भगवान श्री कृष्ण जन्मभूमि से भी जाना जाता है। विशेषतौर होली मानाने के लिए यहां दूर-दूर से लोग आया करते हैं। यहां कृष्ण मंदिर के अलावा कई अन्य जगह भी हैं जहां आप घूमने के लिए जा सकते हैं। मथुरा से करीब 56 किलोमीटर की दूरी पर आगरा है। आप चाहें तो मथुरा के साथ-साथ आगरा भी घूमने जा सकते हैं। वहीं, अगर आप मथुरा घूमने का प्लान बना रहे हैं तो आज हम आपको जिन प्रमुख जगहों के बारे में बताने जा रहे हैं वहां आप घूमने जा सकते हैं। आइए आपको मथुरा के कुछ प्रमुख स्थानों के बारे में बताते हैं... कृष्ण जन्मभूमि अगर आप मथुरा जा रहे हैं तो सबसे पहले कृष्ण जन्मभूमि मंदिर ही जाएं। कृष्ण जन्मभूमि से ही आपको ये साफ हो गया होगा कि ये कृष्ण भगवान का जन्म स्थान है। बता दें कि इस मंदिर को उसी कारागार के बाहर बनाया गया है जहां भगवान कृष्ण ने जन्म लिया था। कहते हैं कि यहां कृष्ण भगवान की शुद्ध सोने से बनी 4 मीटर की मूर्ति थी, जिसको महमूद गजनवी द्वा

वज़न कम करना चाहते हैं तो रात को करें इन 5 ड्रिंक्स का सेवन

Image
यदि आप उन लोगों में से एक हैं जो अपना वज़न कम करने के लिए संघर्ष कर रहे हैं, तो आपको इस आर्टिकल को अवश्य पढ़ना चाहिए। वज़न कम करना आसान काम नहीं है- इसके लिए एक संतुलित आहार और उचित व्यायाम की आवश्यकता होती है। वज़न घटाने के लिए सबसे पहले एक बेहतर पाचन तंत्र का होना बहुत ज़रूरी है। कोई भी इंसान कुछ आहार परिवर्तनों के साथ पाचन क्षमता को बढ़ाकर प्रभावी रूप से वज़न कम कर सकता है और शरीर के मेटाबॉलिज़म को बढ़ा सकता है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों का मानना है कि सोने से पहले हम जो भी खाते हैं उसे सीमित रखना चाहिए। सोने से पहले खाने या पीने से अतिरिक्त कैलोरी बढ़ जाती है और हृदय रोग और मधुमेह का खतरा भी बढ़ जाता है। सोने से पहले एक शांतिदायक पेय लेना न केवल एक रिलैक्सिंग सोने का तरीका है, बल्कि यह आपको एक अच्छी नींद भी दे सकता है और यहां तक कि वज़न कम करने में भी आपकी मदद कर सकता है। यहाँ कुछ ऐसे ही बेडटाइम ड्रिंक्स की सूची दी गई है जो आपका वज़न कम करने में आपकी मदद कर सकते हैं- 1. दालचीनी चाय दालचीनी कई स्वास्थ्य लाभकारी गुणों से भरी हुई होती है। सोते समय चाय के रूप में इसका सेवन करने से आपके मेटाबॉ

इन चीजों का करें सेवन तो गैस की समस्या से मिलेगा आराम

Image
पेट में गैस बनना एक आम समस्या है। कभी−कभी कुछ बहुत अधिक हैवी खाने से या फिर लंबे समय तक कुछ भी ना खाने से गैस की समस्या बनने लगती है। ऐसे में अक्सर अपनी समस्या से निजात पाने के लिए लोग दवाईयों का सहारा लेते हैं। हो सकता है कि आप भी इसके लिए दवाई लेते हों। लेकिन हर छोटी−छोटी समस्या होने पर दवाई लेना अच्छा विचार नहीं है। तो आज हम आपको किचन में रखीं कुछ ऐसी चीजों के बारे में बता रहे हैं, जिसकी मदद से आप गैस की समस्या से बेहद आसानी से निजात पा सकते हैं− ठंडे पानी का लें सहारा एक गिलास बर्फ का ठंडा पानी लें और इसमें दो बड़े चम्मच चीनी डालकर अच्छी तरह हिलाएं। अब इसे पी लें। अगर आपको जरूरत महसूस हो तो इस प्रक्रिया को दोहराएं। इससे आपको यकीनन काफी राहत महसूस होगी। एक गिलास बर्फ का ठंडा पानी शरीर के तरल पदार्थ को स्थिर करने में मदद करता है। ऐसा माना जाता है कि ठंडा पानी गले और छाती की जलन को शांत करता है। इसलिए, एक पूरा गिलास ठंडा पानी पिएं और फिर एक छोटी सी सैर करें। एसिड आपके गले तक पहुंचने से धीरे−धीरे कम हो जाएगा। प्रोबायोटिक्स का करें सेवन डायटीशियन बताते हैं कि प्रोबायोटिक्स पाचन में सुधा

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

ऑनलाइन मेले के माध्यम से 56 लाख 39 हजार 8 सौ 68 का लोन वितरण किया गयाः चयनित लाभार्थियों को टूल किट देकर किया गया सम्मानितः उन्नाव 03 दिसंबर 2020(सूचना विभाग)  उत्तर प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री जी की अध्यक्षता में आज चतुर्थ ऑनलाइन मेले  का आयोजन किया गया। जिसमें जनपद में कार्यक्रम का आयोजन कलेक्ट्रेट एन०आई०सी०  उन्नाव में जिलाधिकारी श्री रविंद्र कुमार की उपस्थिति में  आयोजित किया गया। जनपद में स्वरोजगार संगम योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन मेले का आयोजन किया गया जिसमें स्वरोजगार अभियान ,प्रधानमंत्री स्वरोजगार सृजन कार्यरक्रम ,मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना एवं एक जनपद एक उत्पाद और अन्य जनपद की योजनाओं के ऋण का वितरण किया गया जिसमें  ओडीओपी टूल किट प्राप्त करने वाले लाभार्थियों में एक जनपद एक उत्पाद के अंतर्गत रोली राजपूत दही चैकी उन्नाव, मोहम्मद आमिर मियागंज उन्नाव, सुश्री निधि उन्नाव, सुश्री नूर फातिमा रसूलाबाद, सुश्री आरती कानपुर-लखनऊ बाईपास, उन्नाव तथा विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना के अंतर्गत सुश्री रामरति, पिंडोखा देवारा कला , श्रीमती रामबेटी, राय सिंह खेड़ा, को टूल किट देक