चाकू मारते वक्त पत्नी ने कहा 'आइ लव यू' फिर भी नहीं रुका सुमित


जमशेदपुर


गाजियाबाद इंदिरापुरम के ज्ञानखंड में पत्नी व तीन बच्चों की हत्या करने वाले आदित्यपुर के सॉफ्टवेयर इंजीनियर सुमित ने पुलिस के समक्ष कई खुलासा किया. पूछताछ में बताया कि जब वह पत्नी पर चाकू से वार कर रहा था तो उसने उसे 'आई लव यू' कहा. यह सुन कर उसके हाथ कांप उठे थे.
बावजूद भांग के नशे में उसने पत्नी पर चाकू से 17 बार वार किया. कुछ देर बाद पत्नी जमीन पर गिर गयी.इधर, सुमित की गिरफ्तारी के बाद मृतकों के अंतिम क्रिया कर्म संस्कार की तैयारी में परिवार जुट गया है. सुमित की पत्नी अंशुबाला के भाई पंकज कुमार सिंह ने बताया कि बहन और तीनों बच्चों का अंतिम संस्कार आदित्यपुर वाले मकान से सुमित के बड़े भाई अमित सिंह ने करने की बात कही है. तीन दिन तक पुलिस कस्टडी में रहकर बड़े भाई अमित ने सुमित को पकड़वाने में सहयोग किया था.
पुलिस सुमित का लोकेशन मिलने के बाद अमित को भी अपने साथ ले गयी थी. सुमित को गिरफ्तार कर जब पुलिस गाजियाबाद ले आयी, तब अमित ने राहत की सांस ली. अमित ने यह फैसला लिया कि वह परिवार के चार सदस्यों का क्रिया कर्म व अन्य संस्कार आदित्यपुर स्थित अपने मकान से ही करेगा. पंकज के अनुसार अमित परिवार व बहनों को लेकर जमशेदपुर के लिए रवाना हो गये है. अंशुबाला व तीनों बच्चों के शवों का दाह संस्कार 22 अप्रैल को गाजियाबाद में ही कर दिया गया था. सुमित के फरार और अमित के पुलिस कस्टडी में रहने के कारण मृतकों के क्रिया कर्म संस्कार को लेकर संशय बना हुआ था.
सबसे ज्यादा प्यारा प्रथमेश से करता था, इसलिए उसे पहले मारा
सुमित ने पुलिस को बताया कि वह तीनों बच्चों में सबसे ज्यादा प्यार अपने बड़े बेटे प्रथमेश को करता था. पत्नी की हत्या करने बाद वह यह सोच रहा था कि तीनों बच्चों में पहले किसे मारे. सबसे अधिक प्यार करने वाले प्रथमेश की हत्या पहले करने का फैसला उसने लिया. उसके बाद दोनों जुड़वा बच्चों को मार डाला. हत्या के दिन प्रथमेश को सुमित ने अपने पास ही सुलाया था.


Popular posts from this blog

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

अपनी दाढ़ी का रखें ख्याल, दिखेंगे बेहद हैंडसम