क्या प्रियंका गांधी वाराणसी से पीएम मोदी को टक्कर देंगी ?


वाराणसी


क्या कांग्रेस महासचिव और राहुल गांधी की बहन प्रियंका गांधी वाड्रा इस लोकसभा चुनाव में वाराणसी से पीएम मोदी को टक्कर देंगी ? यह सवाल फिर एक बार लोगों के मन में उठने लगे हैं. ऐसा इसलिए क्योंकि उत्तर प्रदेश की सीटों के लिए जारी सूची में शनिवार को कांग्रेस ने एकबार फिर वाराणसी के उम्मीदवार की घोषणा नहीं की है.


इधर, कांग्रेस नेतृत्व प्रियंका गांधी की उम्मीदवारी की अटकलों पर कुछ भी बोलने से बचता नजर आ रहा है. कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला लोकसभा चुनाव में प्रियंका के लड़ने की संभावना को खारिज भी नहीं किया है. उन्होंने कहा कि यदि इस संबंध में कोई फैसला लिया जाता है, तो इसके बारे में तय किये जाने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है.


कांग्रेस सूत्रों की मानें तो कांग्रेस कितनी मजबूत है इसको लेकर इलाहाबाद और वाराणसी में आंतरिक सर्वे किया गया. पार्टी ने इन दोनों ही सीटों से किसी उम्मीदवार की घोषणा अभी तक नहीं की है. वाराणसी से 2004 में विजयी रहे राजेश मिश्रा को बगल के सलेमपुर से टिकट दिया गया है. आपको बता दें कि यहां से 2014 में अजय राय को कांग्रेस ने टिकट दिया गया था.


यदि आपको याद हो तो प्रियंका इसी साल औपचारिक रूप से राजनीति में शामिल हुई हैं हालांकि वह पर्दे के पीछे रहकर अपनी भूमिका बखूबी निभातीं आईं हैं. कांग्रेस ने उन्हें पूर्वी यूपी का प्रभारी महासचिव नियुक्त किया है. पार्टी सूत्रों की मानें तो प्रियंका 2014 में ही पीएम मोदी के खिलाफ चुनावी मैदान में उतरना चाहतीं थीं. वह पीएम मोदी के खिलाफ सबसे मजबूत उम्मीदवार के रूप में देखी जा रही हैं.


हालांकि इस संबंध में कांग्रेस के एक धड़े की मानें तो प्रियंका वाराणसी से हार सकती हैं जो उभरती हुई नेता के लिए अच्छा नहीं रहेगा. वहीं, अन्य धडे की मानें तो प्रियंका की एंट्री से वाराणसी में पीएम मोदी के लिए परेशानी बढ़ेगी जिससे भाजपा के प्रचार पर असर पड़ेगा.


Popular posts from this blog

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

अपनी दाढ़ी का रखें ख्याल, दिखेंगे बेहद हैंडसम