पांच साल में गरीबी को पांच प्रतिशत से नीचे लाने का लक्ष्य रखा: राज्यपाल

भुवनेश्वर।


ओडिशा के राज्यपाल ने विधानसभा में अपने अभिभाषण में कहा कि सरकार अगले पांच साल में गरीबी को पांच प्रतिशत से नीचे लाने के उपायों पर ध्यान केंद्रित करेगी। उन्होंने महिलाओं के लिए स्वास्थ्य देखभाल सहायता को सात लाख से बढ़ाकर 10 लाख रुपये करने का ऐलान किया। राज्यपाल गणेशी लाल ने ओडिशा की 16वीं विधानसभा के पहले सत्र में अपने अभिभाषण के दौरान कहा कि मेरी सरकार अगले पांच साल में गरीबी को पांच प्रतिशत से नीचे लाने के लिए बड़ी रणनीति के तौर पर कृषि विकास और किसानों के कल्याण पर जोर देगी।


सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, गरीबी की सूची में 2011-12 तक बिहार 33.34 प्रतिशत के साथ शीर्ष पर है और दूसरे नम्बर पर ओडिशा है जहां 32.59 फीसदी लोग गरीब हैं। वादे के अनुसार कालिया (आजीविका और आय संवर्धन के लिए कृषक सहायता) को जारी रखने का ऐलान करते हुए राज्यपाल ने कहा कि सभी किसानों और भूमिहीन खेतिहर मज़दूरों को इस कार्यक्रम का लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि सरकार छोटे और हाशिये पर पड़े किसानों को एक लाख रुपये तक का ब्याज मुक्त कृषि कर्ज़ देगी और सिंचाई सुविधाओं को बेहतर बनाने के लिए 50,000 रुपये का निवेश करेगी।


राज्यपाल ने कहा कि बीजू स्वास्थ्य कल्याण योजना के तहत ओडिशा की महिलाएं सात लाख रुपये के बजाय 10 लाख रुपये का इलाज करा सकेंगी। हर विधवा एवं बेसहारा महिला इस सामाजिक सुरक्षा पेंशन के तहत आएगी। लाल ने कहा कि राज्य में आने वाले उद्योग में तकरीबन 75 प्रतिशत नौकरियां काबिल स्थानीय युवकों के लिए आरक्षित रहेंगी।


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन