डिस्ट्रिक्ट ई-गवर्नेन्स प्रणाली को हाईटेक बनाने की कवायद शुरू

गोण्डा।


जिले में ई-गवर्नेन्स प्रणाली को हाईटेक बनाने की तैयारी शुरू हो गई है। सब कुछ ठीक रहा तो जल्द ही जिले की सभी तहसीलें, ब्लाक व नगर पालिकाएं वीडियो कान्फ्रन्सिंग से जुड़ जाएगें। जिलाधिकारी डा0 नितिन बंसल व सीडीओ ने जिला सूचना विज्ञान अधिकारी को इसका ट्रायल कर व्यवस्था बनाने के निर्देश दिए है। जरूरी व्यवस्थाएं डिस्ट्रिक्ट ई-गवर्नेन्स सोसाइटी के माध्यम से होगी। ट्रायल सफल होने के बाद डीएम व सीडीओ, तहसीलों के एसडीएम, बीडीओ व नगर पालिकाओं के ईओ से सीधे संवाद स्थापित कर प्रगति की समीक्षाएं कर सकेगें।
बुधवार को कलेक्ट्रेट सभागार में जिलाधिकारी ने जनसेवा केन्द्र परियोजनान्तर्गत डिस्ट्रिक्ट सर्विस प्रोवाइडर के कार्यो की समीक्षा किया। जिसमें डिस्ट्रिक्ट सर्विस प्रोवाइडर द्वारा खोले गये जनसेवा केन्द्रां की प्रगति, अवशेष ग्राम पंचायतों मे नए जनसेवा केन्द्र खोलने के प्रचार-प्रसार, जनसेवा केन्द्रो के जांच एवं दिये गये निर्देशों के अनुपालन की स्थिति, डिस्ट्रिक्ट सर्विस प्रोवाइडर द्वारा प्रत्येक सप्ताह न्यूनतम 02 जनसेवा केन्द्रो का औचक निरीक्षण व फीड-बैक रिर्पोट, अक्रियाशील जनसेवा केन्द्रो को बन्द करने, ई-डिस्ट्रिक्ट परियोजनान्तर्गत संचालित आनलाइन सेवाओं के लंबित आवेदनों के निस्तारण, जनसेवा केन्द्र द्वारा ई-डिलिवरी के माध्यम से आम नागरिकों को प्रदान की जा रही शासकीय सेवाओ हेतु यूजर चार्जेज के रूप मे प्राप्त की जा रही धनराशि के अंश के पुनर्विभाजन, वितरण एवं उपयोग के, ई-गवर्नेंस परियोजनान्तर्गत शासकीय कार्य हेतु उपकरणों की खरीदी के संबंध में, ई-डिस्ट्रिक्ट परियोजनान्तर्गत उपलब्ध कराये गए हार्डवेयर नेटवर्किंग एवं सहवर्ती उपकरणो के रख-रखाव, ई-गवर्नेंस सेल के कक्षों को दुरूस्तीकरण कराने, डिजिटल इण्डिया कार्यक्रम सम्बन्धी योजनाओं/पीएमजी दिशा आदि की गहन समीक्षा की गई। जिलाधिकारी ने निर्देश दिए है कि तहसीलों व ब्लाकों में ई-गवर्नेन्स सोसाइटी के माध्यम से प्रोजक्टर लगवाएं जाएं तथा नगरपालिका, तहसीलों व ब्लाकों को वीडियो कार्न्फ्रेन्सिंग से जोड़ा जाएगा जिसके द्वारा अब एसडीएम, बीडियो व ईओ वीडियो कान्फ्रेन्सिंग के जरिए सीधे संवाद स्थापित कर सकेंगे और योजनाओं की समीक्षा बगैर मुख्यालय पर आए हो सकेगी। ई-गवर्नेन्स के तहत लम्बित आवेदनों को एक सप्ताह के अन्दर निस्तारित कराने के निर्देश दिए गए हैं।
बैठक में सीडीओ आशीष कुमार, नगर मजिस्ट्रेट राकेश सिंह, मुख्य कोषाधिकारी, डीपीआरओ घनश्याम सागर जिला सूचना विज्ञान अधिकारी गिरीश कुमार, ई-डिस्ट्रिक्ट मैनेजर अमित गुप्ता, सीएसी प्रबन्धक अमरेश चैबे सहित एडीओ पंचायत व अन्य रहे।


 


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

मंत्र की उपयोगिता जांचें साधना से पहले