राष्ट्रीय लोक अदालत में 13694 मुकदमों का हुआ निस्तारण

लखनऊ।


जनपद न्यायालय लखनऊ में राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया गया, जिसमें जनपद न्यायाधीश सुरेन्द्र कुमार यादव द्वारा सिविल कोर्ट परिसर का निरीक्षण किया गया। उनके द्वारा आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये। इस राष्ट्रीय लोक अदालत पर बड़ी संख्या में वादकारियों ने अपने मुकदमों के त्वरित निस्तारण के लिये हिस्सा लिया।
जनपद न्यायाधीश, सुरेन्द्र कुमार यादव ने आज यहां यह जानकारी देते हुए बताया कि राष्ट्रीय लोक अदालत में जनपद न्यायालय लखनऊ में लगभग 19577 वाद नियत किये गये, जिसमें से कुल 12153 वादों का निस्तारण किया गया। राष्ट्रीय लोक अदालत में चेक बाउन्स केसेज, बैक रिकवरी केसेज, अपराधिक शमनीय वाद, वैवाहिक वाद, मोटर एक्सीडेंट क्लेम पिटीशन वाद, किरायेदारी वाद, सुखाधिकार, व्यादेश, उत्तराधिकार आदि दीवानी वादों का भी निस्तारण किया गया, और कुल 196295912 रूपये की धनराशि जुर्माने व समझौता राशि के सम्बन्ध में आदेश किया गया। उन्होंने बताया कि इसके अतिरिक्त बैंक वसूली व फाइनेन्स के प्री-लिटिगेशन स्तर पर 1541 वादों का जनपद न्यायालय में निस्तारण किया गया, जिनके समझौता राशि 47732355 रुपये है।
इस प्रकार जनपद लखनऊ में आयोजित राष्ट्रीय लोक अदालत में आज कुल 13694 मुकदमें निस्तारित हुये और जिनकी समझौता व जुर्माना राशि 244028267 रुपये है।


 


Popular posts from this blog

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन