आबकारी सिपाही परीक्षा 2016 का परिणाम रोकने की मांग      

लखनऊ।


आईपीएस अफसर अमिताभ ठाकुर ने उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग द्वारा 25 सितम्बर 2016 को ली गयी आबकारी सिपाही परीक्षा के संबंध में शारीरिक दक्षता तथा शारीरिक माप परीक्षा पर रोक लगाये जाने के लिए अनुरोध किया है।
आयोग के सचिव को भेजे गए अपने पत्र में अमिताभ ने कहा कि आयोग ने अद्यतन प्रगति रिपोर्ट, अगस्त 2019 में कहा है कि इस परीक्षा के संबंध में सतर्कता जाँच प्राप्त हो गयी है। अतः शारीरिक दक्ष परीक्षा आदि के लिए अभ्यर्थियों की सूची अगस्त के दूसरे पक्ष में प्रकाशित किया जाना संभावित है। उन्होंने कहा कि इस मामले में सतर्कता जाँच हुई हो अथवा नहीं, किन्तु लिखित परीक्षा की दूसरी पाली में पर्चा लीक के संबंध में उनके प्रार्थनापत्र पर सीजेएम लखनऊ के आदेशों पर मु०अ०स० 577/2016 अंतर्गत धारा 419/420/467/468/471/120बी आईपीसी तथा 66 आईटी एक्ट, थाना विभूतिखंड, जनपद लखनऊ दर्ज किया गया था, जिसकी विवेचना शासन द्वारा सीबीसीआईडी को सुपुर्द की गयी थी। 
अमिताभ ने कहा कि उनकी जानकारी के अनुसार अभी तक यह विवेचना प्रचलित है तथा सीबीसीआईडी ने इस संबंध में कोर्ट में पुलिस रिपोर्ट नहीं भेजा है। उन्होंने आयोग से अनुरोध किया है कि यदि इसी बीच किसी सतर्कता जाँच के आधार पर परिणाम जारी कर दिया गया तो अत्यंत विषम एवं असहज स्थिति उत्पन्न हो जायेगी।


 


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन