दिल्ली के तुगलकाबाद की घटना से बीएसपी का कुछ भी लेना-देना नहीं : मायावती

लखनऊ।


बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने आज यहाँ कहा कि बी.एस.पी. पूरी तरह से एक अनुशासित पार्टी है तथा इसके लोगों द्वारा कानून को अपने हांथ में नहीं लेने की जो अच्छी परम्परा है वह पूरी तरह से आज भी बरकरार है जबकि दूसरी पार्टियों व संगठनों के लिए कानून तोड़ना एक आम बात है, जैसाकि लोगों को देश में अक्सर हर जगह देखने को मिलता है और जिससे आमजनता को अनेकों प्रकार की परेशानी नित्य दिन झेलनी पड़ती है। मायावती ने गुरूवार को आईपीएन को दिए अपने बयान में कहा कि दिल्ली के खासकर तुगलकाबाद क्षेत्र में कल जो तोड़फोड़ आदि की घटनायें घटित हुई हैं जिससे आमजनता को काफी संकट झेलना पड़ा है वह अनुचित है तथा उससे बी.एस.पी. का कुछ भी लेना-देना नहीं है। बी.एस.पी. संविधान व कानून का हमेशा पूरा-पूरा सम्मान करती है तथा इस पार्टी का संघर्ष कानून के दायरे में ही रहकर होता है। हमें अपने संतों, गुरुओं व महापुरुषों के सम्मान में बेकसूर लोगोंं को किसी भी प्रकार की तकलीफ व क्षति नहीं पहुँचानी है। 
मायावती ने कहा कि इसके अलावा, बी.एस.पी. के लोगों को किसी भी अति-दुःखद घटना आदि के घटित होने के बाद अगर सरकार वहाँं पर धारा 144 के तहत प्रतिबंध आदि लगाती है तो उसका भी उल्लंघन नहीं करना है व अन्य पार्टियों के नेताओं की तरह घटनास्थल पर जबर्दस्ती जाने का प्रयास नहीं करना है ताकि सरकार को निरंकुश व द्वेषपूर्ण कार्रवाई करके प्रताड़ित करने का कोई मौका नहीं मिल सके। 


 


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन