सामाजिक जागरूकता और सामाजिक संवाद के लिए मीडिया की भूमिका महत्वपूर्ण : मुख्यमंत्री

लखनऊ।


उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सामाजिक जागरूकता और सामाजिक संवाद के लिए मीडिया की भूमिका को महत्वपूर्ण बताते हुए कहा है कि जल संरक्षण, पर्यावरण संरक्षण जैसे विभिन्न विषयों पर मीडिया और जनता को सक्रियता के साथ कार्य करना होगा। उन्होंने कहा कि 02 अक्टूबर, 2019 तक महात्मा गांधी की 150वीं जयन्ती के उपलक्ष्य में प्रदेश को पॉलिथीन से मुक्त करने का लक्ष्य तय करते हुए कार्यवाही की जाए।
मुख्यमंत्री मंगलवार को ताज होटल में एक मीडिया हाउस द्वारा आयोजित 'यू0पी0 रतन सम्मान-2019' समारोह को सम्बोधित कर रहे थे। इस समारोह में विभिन्न क्षेत्रों में सामाजिक योगदान करने वाली 25 प्रतिभाओं को सम्मानित किया गया। उन्होंने दैनिक जागरण समूह की सामाजिक प्रतिबद्धताओं के प्रति किए जा रहे कार्यों की सराहना करते हुए कहा कि यह मीडिया समूह आरम्भ से ही विभिन्न सामाजिक विषयों पर जनजागरण को बढ़ावा दे रहा है। उन्होंने कहा कि जनजागरूकता के अभाव में समाज, प्रदेश व देश की प्रगति व समृद्धि की कल्पना सम्भव नहीं है। इसके अभाव में शासन की कई जनहितकारी योजनाओं से लोग वंचित रह जाते हैं। जब तक ऐसे कार्यक्रमों से लोग नहीं जुड़ते, तब तक प्रगति सम्भव नहीं है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के बढ़ते प्रभावों के बावजूद प्रिण्ट मीडिया आज भी अपनी प्रासंगिकता और पहचान बनाए हुए है। यह मीडिया लोगों के अन्तःकरण के साथ जुड़ता है। दैनिक जागरण ने भी जनता के बीच अपनी धार और पहचान कायम रखी है। इसके सम्पादकीय लेखों की पाठकों में लोकप्रियता है। उन्होंने विभिन्न क्षेत्रों में सराहनीय भूमिका और योगदान का निर्वहन करने वाली प्रतिभाओं को सम्मानित किए जाने के लिए दैनिक जागरण समूह को धन्यवाद ज्ञापित करते हुए सम्मानित विभूतियों को बधाई व शुभकामनाएं दीं। उन्होंने कहा कि ऐसे महानुभावों और विभूतियों को सम्मानित किए जाने से समाज के अन्य लोग प्रेरित होते हैं और उनमें जागरूकता उत्पन्न होती है। 
मुख्यमंत्री ने गोरखपुर सहित पूर्वी उत्तर प्रदेश में इंसेफलाइटिस से प्रभावित व्यक्तियों के आकड़ों में पिछले 02 वर्षों में उल्लेखनीय गिरावट की चर्चा करते हुए कहा कि यह सब जनजागरूकता और राज्य सरकार तथा मीडिया के प्रयासों से सम्भव हो सका है। पूरे भारत में 10 करोड़ तथा उत्तर प्रदेश में 2.60 करोड़ शौचालयों का निर्माण किया गया। उत्तर प्रदेश में अब बेसलाइन के अलावा, लोगों को शौचालय सुविधा उपलब्ध कराने का लक्ष्य है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश माटी कला बोर्ड का गठन किया गया है। अप्रैल से जून माह तक कुम्हारों को तालाब उपलब्ध कराए जाएंगे, जिनसे तालाबों की खुदाई भी होगी और जल संरक्षण का भी कार्य सुनिश्चित होगा। 
'यू0पी0 रतन सम्मान-2019' से सम्मानित प्रतिभाओं में कानपुर के गायक एवं संगीतकार अंकित तिवारी, रायबरेली की एशियन गेम्स सिल्वर मेडल विनर एथलीट सुधा सिंह, सुल्तानपुर के समाजसेवी करतार केशव यादव, पशुपति एवरेस्ट प्लाईवुड बरेली के प्रोपराइटर उमेश नेमानी, स्वास्तिक आयुर्वेद एवं पंचकर्म केन्द्र वाराणसी के मैनेजिंग डायरेक्टर डॉ0 प्रमोद जायसवाल, ओमेगा प्लस हॉस्पिटल वाराणसी के डायरेक्टर डॉ0 कर्मराज सिंह, शांति नर्सिंग होम घाटमपुर के डायरेक्टर डॉ0 ए0के0 गुप्ता, टाइमीनियर हॉस्पिटल गोरखपुर के डायरेक्टर डॉ0 शशिकान्त दीक्षित, रिषिता डेवलपर्स लखनऊ के मैनेजिंग डायरेक्टर सुधीर कुमार अग्रवाल, मेधज टेक्नोकांसेप्ट प्रा0लि0 लखनऊ के सी0एम0डी0 समीर त्रिपाठी, चन्दा वेलफेयर सोसाइटी गोरखपुर के चेयरमैन श्री रविकान्त तिवारी, कुंअर ग्लोबल स्कूल लखनऊ के राजेश सिंह, गीता इण्टरनेशनल स्कूल कुशीनगर के डायरेक्टर ओमप्रकाश गुप्ता, पी0ओ0सी0टी0 गु्रप लखनऊ के चेयरमैन डॉ0 सौरभ गर्ग, स्टारकी हियरिंग फाउण्डेशन दिल्ली के डायरेक्टर रोहित मिश्रा, बसेरा इंफ्रासिटी गोरखपुर के मैनेजिंग डायरेक्टर ज्ञानप्रकाश मणि त्रिपाठी, पी0एच0डी0 चेम्बर्स ऑफ कॉमर्स एण्ड इण्डस्ट्री लखनऊ के को-चेयरमैन मुकेश सिंह, जगदम्बा सुपर स्पेशियलिटी और ट्रामा सेण्टर मेरठ के चेयरमैन रविन्द्र गुर्जर, विष्णु भगवान पब्लिक स्कूल प्रयागराज के मैनेजिंग डायरेक्टर अभिषेक तिवारी, राइटक्राफ्ट रिसर्च एण्ड पब्लिकेशंस कानपुर के को-फाउण्डर एण्ड डायरेक्टर विकास खन्ना एवं मुकुंद तिवारी, लॉ मिलिटेयर एकेडमी कानपुर के डायरेक्टर अरुण कुमार शुक्ला, गार्डेनिया स्कूल कानपुर के चीफ डायरेक्टर सौरभ द्विवेदी एवं नीलिमा द्विवेदी, मुजफ्फरनगर के डॉ0 संदीप वर्मा, शुभम होम्यो क्लीनिक प्रयागराज के डॉ0 बी0बी0 मिश्र तथा सेठ विशम्भर नाथ संस्थान लखनऊ के श्री विनय रस्तोगी शामिल हैं।


 


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन