चिन्मयानंद को बचाने के लिए सत्ता का हो रहा दुरुपयोग : वृंदा करात

शाहजहांपुर।


पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री चिन्मयानंद पर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली छात्रा से गुरुवार को मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी की नेता व पूर्व सांसद वृंदा करात और सुभाषिनी अली ने मुलाकात की। जेल में मुलाकात के दौरान उन्होंने आरोप लगाया कि पूरे मामले में आरोपी को बचाने के लिए सत्ता का दुरुपयोग किया जा रहा है।
वृंदा करात ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि एसआईटी ने पीड़िता की एफआईआर बहुत कमजोर धाराओं में दर्ज की है। यही नहीं, ब्लैकमेलिंग मामले में पीड़िता की गिरफ्तारी में पुलिस ने एसआईटी के साथ दुर्व्यहार किया। उन्होंने मांग की कि चिन्मयानंद पर दूसरे केस के चलते उन पर सख्त कार्रवाई हो। पूरे केस में आरोपी को बचाने के लिए सत्ता का दुरुपयोग किया जा रहा है।
सुभाषिनी अली ने कहा कि हम एसआईटी से मांग कर रहे हैं कि चिन्मयानंद पर सीधे तौर पर धारा 376 के तहत करवाई हो। इसके अलावा होस्टल के कमरे से गायब महत्वपूर्ण चश्मे को लेकर भी इसमें धारा 201 को जाड़ा जाए। उन्होंने कहा कि जांच एजेंसी प्रदेश सरकार के दबाव में है और आरोपी को बचाने में जुटी है।



Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन