एसडीएम के बार-बार मुकदमा दर्ज कराने की धमकी पर पूजन समितियों में भड़का आक्रोश

मछलीशहर, जौनपुर।


स्थानीय तहसील परिसर में उपजिलाधिकारी की अध्यक्षता में आगामी दुर्गा पूजा एंव भरत मिलाप को देखते हुये शान्ति समिति की बैठक बुलायी गयी। इस दौरान नगर में सजने वाले देवी पण्डालों, भरत मिलाप पर निकलने वाली झांकियों सहित अन्य मुद्दों पर विचार-विमर्श किया गया।
इस मौके पर उपजिलाधिकारी मंगेश दुबे ने कहा कि इस बार किसी भी नदी, नहर एवं तालाब में प्रतिमाओं का विसर्जन नहीं किया जायेगा। सभी पूजा पण्डालों पर बिजली के लिये कनेक्शन लेना आवश्यक होगा। कटिया मारकर पण्डालों पर बिजली जलाने पर मुकदमा दर्ज हो जायेगा।
महासमिति द्वारा नगर में ही दुर्गा प्रतिमाओं की मांग पर कहा कि यदि आपकी जमीन हो तो बताये, वहां पर विसर्जन करा दिया जायेगा। डीजे बजने के सम्बन्ध में उन्होंने कहा कि कहीं पर भी डीजे बजने पर बजाने वालों के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत कराया जायेगा। इस दौरान विद्युत विभाग की सबसे ज्यादा समस्याएं देखने को मिली।
वहीं बैठक में विद्युत विभाग के अधिकारी के न पहुंचने पर लोगों ने उनके खिलाफ निन्दा प्रस्ताव पारित किया। साथ ही उपजिलाधिकारी द्वारा बार-बार डीजे बजाने, गाने व पण्डालों पर कटिया लगाने पर मुकदमा दर्ज करने की बात कहने पर सभी दुर्गा पूजा समिति के लोगों ने नाराजगी जतायी।
साथ ही कहा कि जब प्रशासन द्वारा हर जगह मुकदमा ही दर्ज कराने की धमकी दिया जा रहा है तो हम लोग दुर्गा पूजा पण्डाल नहीं सजायेंगे। साथ ही यह भी कहा गया कि दुर्गा पूजा समिति के पदाधिकारियों की बैठक बुलायी जायेगी जहां अंतिम निर्णय लिया जायेगा कि दुर्गा पण्डाल सजाया जाय या नहीं।
इस अवसर पर प्रभारी निरीक्षक हंसा लाल यादव, उपनिरीक्षक रोहित मिश्रा, महासमिति के संरक्षक दिनेश चन्द्र सिन्हा, लाल बहादुर सेठ, भोला शंकर श्रीवास्तव, राजेश अग्रहरी के अलावा तमाम लोग उपस्थित रहे।


 


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन