लखनऊ में इलेक्ट्रिक बसों के चार्जिंग स्टेशन एवं इलेक्ट्रिक वातानुकूलित बसों का लोकार्पण

प्रथम चरण में 40 इलेक्ट्रिक बसों का संचालन प्रारम्भ


लखनऊ।


नगर विकास, मंत्री आशुतोष टण्डन ने सोमवार को लखनऊ स्थित दुबग्गा बस डिपो में इलेक्ट्रिक बसों के चार्जिंग स्टेशन एवं इलेक्ट्रिक वातानुकूलित बसों का लोकार्पण किया।
इस अवसर पर टण्डन ने कहा कि प्रदूषण जनमानस के लिए गम्भीर खतरा है। इससे लड़ने के लिए सभी को जागरूक होना पड़ेगा। चाहे कूड़ा निस्तारण हो या अन्य प्रदूषण जैसे वायु प्रदूषण, ध्वनि प्रदूषण से निजात तभी मिलेगी जब इसके प्रति जागरूक होगें एवं अगली पीढ़ी को स्वच्छ एवं स्वस्थ्य वातावरण देने में अपनी अहम भूमिका का निर्वाहन कर सकेगें। वर्तमान में पूरा विश्व प्रदूषण से प्रभावित है एवं ग्लोबल वार्मिंग एवं प्रदूषण से लड़ने के लिए एक योजना बनाकर कार्य करने की आवश्यकता है।
नगर विकास मंत्री ने कहा कि लखनऊ की जनता को वायु प्रदूषण एवं ध्वनि प्रदूषण से मुक्त कराने के लिये कृत संकल्प मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अगुवाई में उत्तर प्रदेश सरकार के कई महानगरों में वातानुकूलित बसे चलाने का निर्णय भी है। प्रथम चरण में लखनऊ चार्जिंग बस स्टेशन एवं 40 बसों का संचालन प्रारम्भ किया गया है। दुबग्गा डिपो की चार्जिंग शेड की क्षमता 24 बसों की है एवं पार्किंग क्षमता 16 बसों की है। प्रत्येक चार्जर हेतु 01 चार्जिंग पैनल का भी प्राविधान किया गया है एवं विद्युत सब स्टेशन के लिए 02 नग 1600 के0वी0ए0 के 02 नग, ट्रान्सफार्मर 01 नग, एच0टी0 पैनेल 01 नग, एल0टी0 पैनेल 01 नग, ए0पी0एफ0सी0 पैनेल (कैपीसिटर पैनेल) 01 नग व तत्संबंधी उपकरणों का भी प्राविधान है। उन्होंने कहा कि बसों के सुचारू रूप से संचालन हेतु चार्जिंग शेड के तीन तरफ 12 मीटर चौड़ी सी0सी0 रोड का भी प्राविधान किया गया है। दुबग्गा डिपो का निर्माण सी एण्ड डीएस उ0प्र0 जल निगम द्वारा मात्र 08 माह की रिकार्ड अवधि में 08 करोड़ रूपये की लागत से किया गया है।


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

मंत्र की उपयोगिता जांचें साधना से पहले