निवेश मित्र पोर्टल पर प्राप्त समस्त आवेदनों का निर्धारित समय सीमा में निस्तारण के निर्देश

अग्निशमन सेवा से संबंधित प्रकरणों का निस्तारण समय सीमा में किया जाय: अवनीश


लखनऊ।


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देशों के अनुपालन के क्रम में अपर मुख्य सचिव, गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने सिंगल विण्डों पोर्टल, निवेश मित्र पर अग्निशमन सेवा से संबधित आवेदन पत्रों का निस्तारण प्रत्येक दशा में समय सीमा के अन्दर सुनिश्चित कराने के निर्देश दिये है। उन्होंने कहा कि आवेदन पत्रों के निस्तारण में लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों के विरूद्व सख्त कार्रवाई की जायेगी।
अपर मुख्य सचिव, गृह शुक्रवार को अपने कार्यालय कक्ष के सभागार में अग्निशमन सेवा से संबधित प्रकरणों की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने समय सीमा के उपरान्त भारी मात्रा में स्वीकृत एवं अस्वीकृत किये गये आवेदनों पर नाराजगी व्यक्त करते हुए उत्तरदायित्व निर्धारित कर दोशी कर्मचारियों के विरूद्ध कार्रवाई कर अवगत कराये जाने के निर्देश दिये है। उन्होंने निवेश मित्र पोर्टल पर विभिन्न स्तर पर लम्बित आवेदनों की तत्काल समीक्षा कर समयबद्व तरीके से निस्तारित कराये जाने एवं आख्या तत्काल शासन को उपलब्ध कराने के निर्देश पुलिस महानिदेशक, फायर सर्विस को दिये।
अवस्थी ने कहा कि यदि किसी कान्ट्रेक्टर द्वारा एनओसी का आवेदन किया जाता है तो उसे संज्ञान में लेते हुए तत्काल रिजेक्ट किया जाय और यदि ऐसी किसी एन0ओ0सी0 को स्वीकृत किया जाता है तो संबंधित अधिकारी के विरूद्ध तत्काल कार्यवाही की जाय। उन्होंने यह निर्देश दिये है कि पुलिस महानिदेशक फायर सर्विस अपने स्तर पर सप्ताह में दो बार लम्बित आवेदनों की स्थिति की समीक्षा करें। ताकि अनापत्ति प्रमाण-पत्र समय सीमा से निर्गत हो सके। आवेदनों को निस्तारित न करने वाले अधिकारियोंध्कर्मचारियों को चिन्हित कर कार्यवाही करने के भी निर्देश दिये है। उन्होंने कहा कि प्राप्त आवेदनों के लिए अनापत्ति प्रमाण-पत्र जारी करने हेतु विकसित साॅफ्टवेयर को आॅटो कैड पर उच्चीकृत करने के लिए आवास, उद्योगबन्धु एवं स्टेट हैड एनआईसी के साथ शीघ्र एक बैठक की जाय।
अवस्थी ने फायर सर्विस के अधिकारियों को निवेश मित्र पोर्टल से संबंधित समस्त समस्याओं का निराकरण 20 अक्टूबर, 2019 तक प्रत्येक दशा में कराकर समय सीमा के अन्तर्गत समस्त आवेदनों का निस्तारण कराये जाने के भी निर्देश दिये है। उन्होंने प्रदेश में जिन-जिन जनपदों में हाईड्रोलिक प्लेटफार्म तथा अन्य विशिश्ट उपकरण उपलब्ध है और उनका विगत एक वर्श मे कब-कब उपयोग किया गया है, इसकी सूचना जनपदवार तत्काल पुलिस महानिदेशक, फायर सर्विस को उपलब्ध कराने के निर्देश दिये।
बैठक में पुलिस महानिदेशक फायर सर्विस, विश्वजीत पात्रा सहित पुलिस महानिरीक्षक फायर सर्विस, एन0 रविन्दर, विशेश सचिव मुख्यमंत्री, अविनाश कुमार, डाॅयरेक्टर आईटी उद्योग बन्धु उपस्थित थे।  


 


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन