प्रधानमंत्री आवास के चयनित लाभार्थियों से सभासदों में रोष, सर्वेक्षण में 204 लाभार्थी हुए पास

सभासदों ने की उच्च स्तरीय जांच की मांग
कुल 25 वार्डों में से मात्र 10 वार्डों से हुआ पात्रों का चयन


बिंदकी फतेहपुर।


नगर पालिका परिषद व लेखपाल द्वारा नगर के सभी 25 वार्डों से प्रधानमंत्री आवास हेतु आवेदन लिए गए थे जिसमें मात्र 10 वार्डों से ही पात्रों को चयनित किया गया जिसको लेकर शेष वार्डों के नाराज सभासदों ने शासन से उच्च स्तरीय जांच पुनः कराए जाने की मांग की है। बताते चलें कि स्थानीय निकायों नगर पंचायत और नगर पालिकाओं में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत दो लाख पचास हजार रुपयों का अनुदान सरकार द्वारा दिया जा रहा है। अब तक नगर पालिका में बांटे गए आवासों पर लगातार आ रही शिकायतों और अपात्रों को लाभ दिए जाने के आरोपों को मद्देनजर रखते हुए शासन द्वारा कोई भी उच्चस्तरीय जांच के निर्देश नहीं दिए गए हैं। नगर पालिका परिषद व लेखपाल के विशेष रिपोर्ट 2018 में जो पात्रों की सूची भेजी गई थी उसमें कुल 204 पात्रों का चयन किया गया जिनका अगले माह तक आवास हेतु निर्धारित अनुदान आने की संभावना व्यक्त की जा रही है।
नगर के कुछ नाराज सभासद जिसमें शमीम खान, सर्वेश कुमार, सोएब कुरैशी,राहुल गुप्ता आदि ने बताया कि कुल वार्डों में पैगम्बरपुर पूर्वी, मीरखपुर दक्षिणी, हजरतपुर ठठराही,काजीयाना, लाहौरी,लंका केवटरा,बाजार दक्षिणी व पश्चिमी, बाराती नगर व मुगलाही से प्रधानमंत्री आवास के लिए पात्रों का चयन किया गया है जिसमें उन वार्डों के चहेते पुराने व दोबारा बने सभासदों से पालिकाध्यक्ष व पालिका की टीम एवम लेखपाल की मिलीभगत से कई अपात्रों को पात्र बनाकर चयनित करके रिपोर्ट भेजी गईं थीं जिनका शीघ्र अनुदान आने वाला है। यह भी बताते हुए आरोप लगाया है कि हम सभी ने भी पात्रों का चयन करके उनके फार्म इत्यादि तैयार करके जो वास्तव में पात्रता की लिस्ट में थे पालिका में जमा कराया था जिसकी न तो जांच की गई और न ही उन्हें शामिल किया गया।
कहा कि पालिका परिषद को शेष 15 वार्डों में कोई पात्र ही नजर नहीं आया। अभी हाल ही में नगर के तहसील मार्ग स्थित एक विद्यालय में विधायक करण सिंह पटेल व जय कुमार सिंह जैकी की उपस्थिति में  पेंशन शिविर का आयोजन किया गया था जिसमें नगर के महरहा रोड, पुरानी बिंदकी, नई बस्ती, नई कालोनी, छिपाहटी, इत्यादि से सैकड़ों पात्र महिलाओं ने प्रधानमंत्री आवास की मांग की थी जिसमें बिंदकी विधायक ने उनको आश्वासन दिया था। उन पात्र महिलाओं का चयनित लिस्ट में कहीं नाम तक नहीं है। नाराज सभासदों ने बताया कि सबसे अधिक पैगम्बर पुर पूर्वी व हजरत पुर ठठराही से आवास के लिए पात्रों को चुना गया है जो पालिकाध्यक्ष का गढ़ है जिसकी उच्चस्तरीय जांच करवाए जाने की शासन से मांग की है।
इस सम्बन्ध में नगर पालिका के अधिशाषी अधिकारी निरुपमा प्रताप सिंह से जब जानकारी लिया गया तो उन्होंने बताया कि 204 पात्रों की ये पहली लिस्ट है जो चयनित हो चुकी है शेष दूसरी लगभग 4 सौ पात्रों की लिस्ट में सर्वेक्षण चल रहा है जिसे शीघ्र ही जारी किया जाएगा।


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन