प्रतिबन्धित पॉलीथीन पर रोक के लिए चलेगा सघन छापेमारी अभियान, डीएम ने दिए निर्देश

गोण्डा।


नर्सिंग होम्स/प्राइवेट अस्पतालों से निकलने वाले बॉयो मेडिकल बेस्टेज का सुमचित निस्तारण न करने वाले नर्सिंग होम संचालकों के खिलाफ जिला प्रशासन शिंकजा कसने जा रहा है। ऐसे नर्सिंग होम्स जहां पर अस्पतालों से निकलने वाले कचरे का समुचित निस्तारण नहीं किया जा रहा है, उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने के साथ ही भारी जुर्माना लगाने के निर्देश दिए गए हैं। यह निर्देश जिलाधिकारी डा0 नितिन बंसल ने कलेक्टेट सभागार में ठोस अपशिष्ट प्रबन्धन की बैठक में अधिकारियों को दिए हैं।
जिलाधिकारी ने कहा कि लगातार शिकायतें प्राप्त हो रही हैं कि प्राइवेट अस्पतालों में बॉयो मेडिकल कचरे को समुचित तरीके से निस्तारित नहीं किया जा रहा है जिससे गन्दगी और बीमारियों के फैलने का खतरा बन जाता है। उन्होंने निर्देश दिए हैं कि सभी नर्सिंग होम संचालकों को नोटिस जारी कर उन्हें इसके बारे में सचेत कर दिया जाए तथा निर्देश का पालन न करने वाले नर्सिंग होम संचालकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने के साथ ही भारी जुर्माना भी लगाया जाए। जिलाधिकारी ने जनपद भर के सभी नर्सिंग होम संचालकों की बैठक शीघ्र कराने के निर्देश मुख्य चिकित्साधिकारी को दिए हैं।
इसके अलावा पॉलीथीन की बिक्री पर प्रभावी प्रतिबन्ध लगाने के लिए फिर से लगातार सघन छापेमारी अभियान चलाने के निर्देश सभी एसडीएम, ईओ नगर पालिका, नगर पंचायत तथा उपायुक्त उद्योग को दिए हैं और पालीथीन की आवक को रोकने के लिए एआरटीओ प्रर्वतन को सघन चेकिंग करने के निर्देश दिए हैं। मिठाई की दूकानों, होटलों, ढाबों, फल एवं सब्जी मण्डी तथा सब्जी की फुटकर दूकानों पर निष्पक्ष भाव से अभियान चलाकर सिंगल यूज पॉलीथीन पकडऩे तथा विक्रेताओं पर जुर्माना लगाने के निर्देश दिए हैं। जिलाधिकारी ने यह भी अपील की है कि नवरात्रि के दौरान स्थापित की जाने वाली विभिन्न प्रतिमाओं के निर्माण में प्राकृतिक रंगों का ज्यादा से ज्यादा प्रयोग किया जाए जिससे प्रदूषण कम हो। बैठक में ही बताया गया कि जल्द ही शहर का गांधा पार्क व हाउसिंग कालोनी का चिल्डे््न पार्क अपडेट किया जाएगा जिसमें तमाम सुविधाएं स्थापित होंगी। इसके अलावा शहर में बड़े पैमाने पर पिंक ट््यालेट््स भी बनवाए जाएंगे। नगर पंचायत  परसपुर में कूड़ा निस्तारण की जगह न होने से आ रही दिक्कतों का संज्ञान लेते हुए जिलाधिकारी ने एसओसी गोण्डा व तहसीलदार करनैलगंज को निर्देश दिए हैं कि वे तीन दिन के अन्दर जमीन मुहैया करा दें।
बैठक में एडीएम रत्नाकर मिश्र, सिटी मजिस्ट््ेट राकेश सिंह, डीएफओ आर0के0 त्रिपाटी, एसडीएम सदर वीर बहादुर यादव, मनकापुर बी0के0 प्रसाद, अपर उपजिलाधिकारी आरके वर्मा, एसओसी जेडी यादव, नगर पालिका चेयरमैन उज्मा राशिद, तहसीलदार करनैलगंज बृज मोहन, तरबगंज नरसिंह नारायण वर्मा,  मनकापुर मिश्री सिंह चैहान)  पूर्व नपाप चेयरमैन कमरूद््दीन सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे।


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन