ट्रामा सेंटर : सोते डाक्टर को जगाया तो बुला ली पुलिस

फतेहपुर।


सदर अस्पताल के ट्रामा सेंटर में आज चिकित्सको की दादागीरी का एक और मामला उस समय प्रकाश में आया जब शहर के खेलदार मोहल्ला निवासी इमरान पुत्र बदरूद्दीन अपनी बीमार पत्नी को लेकर इलाज के लिये गया और सीट से नदारत चिकित्सक को लिवाने बगल के एसी कक्ष में पहुँच गया। तीमारदार द्वारा आराम में विघ्न डालना चिकित्सक ए०के० सचान को इतना नागवार गुजरा कि उन्होंने इमरान को सबक सिखाने के लिये पुलिस को बुला लिया। बाद में जब मौजूद लोगों ने सम्बंधित चिकित्सक की ही गलती बताई तो पुलिस वाले लौट गये किन्तु चेतावनी दे गये कि “डाक्टर साहब सरकार ने जिस काम के लिये यहाँ तैनात किया है उसे करिये, पद का दुरुपयोग न ही करे तो बेहतर होगा”।
बकौल इमरान जब वह अपनी बीमार पत्नी को लेकर जिला अस्पताल के ट्रामा सेंटर पहुँचा तो ड्यूटी में तैनात चिकित्सक नदारत थे। लोगों ने बताया कि डाक्टर साहब एसी कक्ष में सो रहे है। उसका कहना है कि जब वह उक्त डाक्टर को जगाने पहुँच गया तो डाक्टर उस पर उखड़ पड़े और भाग जाने के लिए कहा। उसने पत्नी का इलाज करने की विनती भी की किन्तु डाक्टर का जवाब था कि मैंने ठेका नहीं ले रखा है। नर्सिंग होम में ले जाकर दिखाओ। इमरान का कहना है कि जब उसने डाक्टर से इलाज करने की जिद की तो उन्होंने पुलिस बुला ली। वहाँ पर मौजूद कुछ अन्य लोगों और मीडिया कर्मियों ने जब डाक्टर की ही गलती और प्रायः ड्यूटी के समय एसी में सोते रहने की बात कही तो पुलिस वालों ने उलटे डाक्टर को ही खरी खोटी सुनाई तब जाकर वह (डाक्टर) उसकी बीमार पत्नी का इलाज करने के लिये उठकर आया। वही मौके पर मौजूद कई और लोगों का कहना था कि डाक्टर काफी देर से सो रहा था। जिससे कई मरीज लौट भी गये। इस संदर्भ में जब सीएमएस से बात की गई तो उन्होंने मामले को देखने की बात कही।


 


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

मंत्र की उपयोगिता जांचें साधना से पहले