उ.प्र. की 23 करोड़ जनता को जब खुशहाली मिलेगी, तभी हमें संतुष्टि होगी : मुख्यमंत्री

yogi adityanath के लिए इमेज परिणाम


आगरा।


उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज यहां कहा कि उत्तर प्रदेश अपनी पहचान खोता जा रहा था, उसे पुनः प्राप्त करने के लिये प्रदेश सरकार ने जो कार्य किए हैं, उसकी मिसाल स्थापित हुई और प्रदेश पुनः अपनी पहचान बना सका है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार जनभावनाओं को दृष्टिगत रखते हुए कार्य कर रही है। जब प्रदेश की 23 करोड़ जनता को खुशहाली मिलेगी, तभी हमें संतुष्टि होगी।
मुख्यमंत्री ने यह विचार शनिवार को आगरा में एक समाचार पत्र द्वारा आयोजित 'तरक्की का राजमार्ग' कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए व्यक्त किये। उन्होंने कहा कि प्रयागराज कुम्भ सुव्यवस्था, सुरक्षा और स्वच्छता के मानकों को पूरा करते हुए सम्पन्न हुआ। यह सरकार की बड़ी उपलब्धि है कि 24 करोड़ श्रद्धालुओं के महाकुम्भ को सुव्यवस्थित ढंग से सम्पन्न कराया गया। इसी प्रकार लोक सभा निर्वाचन को शांतिपूर्ण और निर्विघ्न ढंग से बिना पुनर्मतदान के सम्पन्न कराया गया। यह दर्शाता है कि प्रदेश में सुरक्षा का माहौल स्थापित हुआ है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार प्रदेश को विकास की ऊँचाइयों पर ले जाने के लिए प्रतिबद्ध है। इसको ध्यान में रखते हुये जनकल्याणकारी योजनाओं को संचालित किया जा रहा है, जिसका लाभ समाज के अंतिम पायदान पर खडे़ व्यक्ति को भी मिल रहा है। प्रदेश सरकार हर चुनौती को गम्भीरता से लेते हुए, उसके निराकरण के लिये प्रयासरत है। इसी का परिणाम है कि वर्ष 2017 से पूर्व प्रदेश पिछड़ गया था, आज वह पर्यटन के मामले में नम्बर एक पर आ गया है। प्रदेश में निवेश की व्यापक सम्भावनायें हैं। राज्य सरकार के निर्णयों और प्रयासों से यहां देश-विदेश के लोग भी निवेश करने को तैयार हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि आगरा ने देश-विदेश में अपनी पहचान बनायी है। आगरा विश्वविद्यालय शिक्षा का केन्द्र बिन्दु रहा है। यह क्षेत्र ब्रजभूमि से जुड़ा क्षेत्र है, जो हमारी पवित्र धरोहर है। आगरा को जनसहभागिता के माध्यम से विकास की नयी मंजिलों पर ले जाया जा सकता है। यमुना जी को अविरल और प्रदूषणमुक्त किए जाने का कार्य 'नमामि गंगे' योजना के तहत किया जायेगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश की 23 करोड़ जनता की खुशहाली को देखते हुए किसान, मजदूर, महिलाओं व युवाओं के कल्याण और सुरक्षा को दृष्टिगत रखते हुए प्रदेश सरकार लगातार कार्य कर रही है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि सार्वजनिक जीवन में संतुष्टि कर लेने वाला व्यक्ति विकास नहीं कर सकता। विरासत में मिली अव्यवस्था को पाटने में ढ़ाई वर्ष बीत गए। अब प्रदेश की जनता के लिये स्वास्थ सुरक्षा सहित प्रति व्यक्ति आय में बढ़ोत्तरी के लिये कार्य किया जा रहा है।


 


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन