विकास भवन के समस्त कार्यालयों का किया गया औचक निरीक्षण

उन्नाव


मुख्य विकास अधिकारी श्री प्रेम रंजन सिंह द्वारा आज दिनांक 27 सितंबर 2019 को पूर्वाहन 10ः15 बजे से 10ः40 बजे के मध्य विकास भवन स्थित समस्त कार्यालयों में कार्मिकों की उपस्थिति का औचक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के समय नगर मजिस्ट्रेट श्री राकेश गुप्ता व जिला विकास अधिकारी श्री आर0यू0 द्विवेदी साथ में उपस्थित थे।
निरीक्षण के दौरान जिला युवा कल्याण एवं प्रादेशिक विकास दल अधिकारी के कार्यालय से 02 कर्मी अनुपस्थित पाए गए व कार्यालय जिला समाज कल्याण अधिकारी से 08 कर्मी, कार्यालय परियोजना अधिकारी, यू0पी0 नेडा से 01 कर्मी, कार्यालय जिला कार्यक्रम अधिकारी से 03 कर्मी, कार्यालय परियोजना अधिकारी, जिला नगरीय विकास अभिकरण कार्यालय से 02 कर्मी, सहायक आयुक्त एवं सहायक निबन्धक, सहकारिता कार्यालय से 03 कर्मी, कार्यालय जिला कृषि अधिकारी से 08 कर्मी, जिसमें श्री अशोक कुमार, वरिष्ठ सहायक (दिनांक 05 सितंबर से 27 सितंबर तक अनुपस्थित पाए गए)। कार्यालय सहायक अभियन्ता, लघु सिंचाई से 05 कर्मी, कार्यालय अधि0अभि0, पी0आई0यू0, पी0एम0जी0एम0वाई0 से 02 कर्मी व कार्यालय अधि0अभि0, ग्रामीण अभियन्त्रण विभाग से 12 कर्मी, कार्यालय जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी से 08 कर्मी, कार्यालय जिला कृषि रक्षाधिकारी से 02 कर्मी, कार्यालय उत्तर प्रदेश कौशल मिशन से 03 कर्मी, कार्यालय उपायुक्त, स्वतः रोजगार से कर्मी 05 कर्मी, कार्यालय जिला ग्राम्य विकास अभिकरण से 04 कर्मी, कार्यालय जिला विकास अधिकारी से 06 कर्मी, कार्यालय जिला पंचायत राज अधिकारी से 06 कर्मी (जिसमें श्रीमती संध्या सिंह, पत्र वाहक आज उपस्थित थी परंतु दिनांक 24 व 25 सितंबर को अनुपस्थित पाई गईं)। कार्यालय मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी से 05 कर्मी अनुपस्थित पाए गए, जिस पर नाराजगी जताते हुए मुख्य विकास अधिकारी महोदय ने अनुपस्थित समस्त कार्मिकों के अनुपस्थिति के तिथि के वेतन आहरण/ मानदेय आहरण पर अग्रिम आदेशों तक रोक लगाते हुए निर्देशित किया है कि अनुपस्थिति के संबंध में पत्र प्राप्ति के दो दिवस के अंदर अपने कार्यालय अध्यक्ष के माध्यम से अपना स्पष्टीकरण प्रेषित करना सुनिश्चित करें तथा भविष्य में समय से कार्यालय में उपस्थित होकर शासकीय कार्य संपादित करें।
मुख्य विकास अधिकारी ने विकास भवन स्थित समस्त कार्यालय अध्यक्ष को निर्देशित किया है कि प्रतिदिन समय से स्वंय कार्यालय में उपस्थित होकर अपने अधीनस्थों की उपस्थिति भी सुनिश्चित करायें। उन्होंने कहा कि यदि भवष्यि में इतनी अधिक संख्या में कार्मिक अनुपस्थित पाये जाते हैं तो सम्बन्धित कार्यालय अध्यक्ष के विरूद्ध कठोर कार्यवाही की जायेगी।


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन