3 वर्षीय मासूम बच्चे की हत्या का राज खोलने में जुटी पुलिस

बच्चे की बलि दिये जाने की चर्चा जोरों पर
बच्चे की मौत के बाद गांव में दहशत का माहौल
बिंदकी (फतेहपुर)।

3 वर्षीय मासूम घर के बाहर खेलते समय अचानक गायब हो गया था। जिसके बाद से गंभीर अवस्था में गांव से आधा किलोमीटर दूर एक बाग में खून से लथपथ मिला था। जिसको इलाज के लिए सीएचसी से हैलट कानपुर ले जाया जा रहा था लेकिन बच्चे की हैलट में भर्ती होने के पहले ही मौत हो गई थी। इस बड़ी घटना की जानकारी मिलने पर पुलिस अधीक्षक मौके पर पहुंचे थे। घटनास्थल पर जाकर तहकीकात भी किया था। बच्चे की हत्या को लेकर लोग तरह-तरह के कयास लगा रहे हैं। लोगों के बीच चर्चा है कि कही बलि का मामला तो नहीं है। पुलिस लगातार इस मामले में प्रयास कर रही है कि जल्दी बच्चे की हत्या का खुलासा हो सके।
मालूम हो कि 2 दिन पहले कोतवाली क्षेत्र के बाबूपुर गांव में राजेश पासवान का 3 वर्षीय पुत्र सूर्य पासवान घर के बाहर खेल रहा था तभी अचानक गायब हो गया था। परिजनों ने काफी खोजबीन की थी लेकिन बच्चा नहीं मिला था। दूसरे दिन 3 वर्षीय मासूम सूर्या गांव से करीब 500 मीटर दूर पश्चिम उत्तर दिशा में एक बाग में खून से लथपथ मिला था। जिसकी हालत गंभीर थी, गले में और पेट में चोट के निशान थे। ऐसा लग रहा था, घाव कर खून निकाला गया था। बच्चे के जिंदा मिलते ही परिजनों ने उसे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया। जानकारी मिलने पर पुलिस भी मौके पर पहुंची थी। आनन-फानन में बच्चे को एंबुलेंस द्वारा हैलट कानपुर भेजा गया लेकिन हैलट में भर्ती होने के पहले ही बच्चे ने दम तोड़ दिया था। जिसके बाद से परिजनों में हड़कंप मच गया। सूचना पर पुलिस अधीक्षक रमेश भी बाबूपुर गांव पहुंचे थे और परिजनों से बातचीत करने के बाद घटनास्थल भी पहुंच कर पूरे मामले की जानकारी ली थी। बच्चे की हत्या का राज खोलने के लिए पुलिस लगातार प्रयास कर रही है इसके लिए उसने गांव और आसपास के इलाके में कई लोगों से कड़ी पूछताछ शुरू कर दी है। पुलिस को आशा है कि जल्द ही इस मामले का खुलासा होगा। उधर इस मामले में लोगों के बीच चर्चा रही कि कहीं बच्चे को बलि देने का प्रयास तो नहीं किया गया है। पुलिस भी इसी मामले में ज्यादा खोज भी लगी हुई है। पुलिस का अनुमान है कि इस मामले में हत्यारोपी गांव का ही और पड़ोस का ही कोई व्यक्ति हो सकता है क्योंकि जिस तरह बच्चा अचानक खेलते हुए गायब हुआ है उससे लगता है कि गांव का ही कोई व्यक्ति है जिसका इस पूरी घटना में हाथ है।


 


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन