भाजपा सभासदों का पालिका में धरना

हाथरस।

नगर पालिका परिषद हाथरस के भाजपा सभासदों ने विभिन्न मांगों को लेकर नगर पालिका प्रांगण में एक दिवसीय धरना दिया और अधिशासी अधिकारी को ज्ञापन सौपा।धरना स्थल पर कोतवाली हाथरस गेट के एस आई राहुल सांगवान के साथ पुलिस बल तैनात रहा। तय कार्यक्रम के अनुसार भाजपा सभासद सुबह नगर पालिक पहुँच गये और पालिका के मुख्य गेट पर  ही धरने पर बैठ गये।
धरने पर बैठे सभासदों का आरोप था कि भाजपा सभासदों के वार्डो में विकास कार्य नही कराये जा रहे है। असवैधानिक तरीके से नगर पालिका बोर्ड के वित्तीय अधिकार छीन लेने एवँ बोर्ड को अस्तित्वहीन बना दिया गया है। बोर्ड के वित्तीय अधिकार बोर्ड को वापस दिये जायें। पालिका प्रसाशन द्वारा नियम विरुद्ध किये जा रहे कार्यो का विरोध करने वाले सभासदों को परेशान किया जा रहा है। सभासदों को परेशान करना बंद किया जाये और सम्मान दिया जाए।भाजपा के सभासदों के वार्डों में विकास कार्य नही कराये जा रहे है। भाजपा सभासदों के वार्डो में विकास कार्यों को पूरा किया जाये। नगर पालिका प्रशासन द्वारा सभासदों द्वारा वार्डो की समस्याओं को लेकर दिये जा रहे पत्रों पर कोई कार्यवाही नहीँ की जा रही है। सभासदों के पात्रों पर जल्द कार्यवाही कर सभासदों को लिखित सूचना उपलब्ध कराई जाए। सभासदों द्वारा सूचनाएं माँगने पर सूचनाएं नहीं दी जा रही है। सभासदों को पालिका से संबंधित लिखित अथवा मौखिक सूचना माँगने पर सूचना 7 दिवस में उपलब्ध कराई जाए। सभासदों ने ज्ञापन में चेतावनी देते हुए कहा कि नगर पालिका प्रशासन की कार्यप्रणाली में सुधार नही हुआ और ज्ञापन के बिदुओं पर कार्यवाही नही हुई तो सभासद एक बार फिर वार्डो की जनता के साथ धरने पर बैठेगे। धरना प्रदर्शन में भाजपा के नेता भी सम्मलित हुए।
धरने पर बैठने वालों में सभासद प्रदीप शर्मा,सभासद नारायण लाल ,सभासद प्रमोद शर्मा ,सभासद श्री भगवान वर्मा ,सभासद राजेन्द्र गोयल ,सभासद वीरेंद्र माहौर ,सभासद प्रतिनिधि हिमांशु मिश्र ,सभासद प्रतिनिधि आशीष सेंगर ,सभासद प्रतिनिधि हरप्रसाद माहौर , भाजपा के जिला मंत्री मुकेश कौशिक , भाजपा के पूर्व नगर अध्यक्ष मूलचंद्र वार्ष्णेय ,पूर्व नगर उपाध्यक्ष वंशी पंडित, राजा राना आदि मौजूद रहे।


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

मंत्र की उपयोगिता जांचें साधना से पहले