हत्या मामले में दो आरोपी गिरफ्तार, दो की तलाश

अवैध संबंधों से परेशान पिता-भाई ने परिवार वालों के साथ मिलकर युवक की की थी हत्या
बिंदकी फतेहपुर।

करीब 25 दिन पहले एक युवक की लाश गांव के समीप रोड किनारे मिली थी जिसके बाद इस मामले में मृतक युवक के पिता ने गांव के ही 5 लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था। हालांकि पुलिस इस मामले को संदिग्ध मानते हुए लगातार छानबीन करती रही, जिसके बाद पाया गया कि अवैध संबंधों से तंग आकर पिता व भाई ने अन्य लोगों के साथ मिलकर युवक की कन्नौज में हत्या कर दी थी और सबको बोलेरो गाड़ी से लाकर उक्त स्थान में फेंक दिया था। इस मामले में पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है जबकि दो आरोपी अभी फरार है जिसकी पुलिस तलाश कर रही है।
मालूम हो कि लगभग 25 दिन पहले कोतवाली क्षेत्र के महमूदपुर गांव के पास एक युवक की लाश सड़क किनारे बरामद हुई थी जिसके बाद हड़कंप मच गया था। काफी देर बाद युवक की पहचान धीरज यादव पुत्र सियाराम यादव निवासी गंधरपी कोतवाली बिंदकी के रूप में हुई थी। इस मामले में मृतक के पिता श्याम राम यादव ने गांव के अभिषेक पटेल सहित पांच लोगों के खिलाफ रंजिश के चलते हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था लेकिन पुलिस इस पूरे मामले को संदिग्ध मान रही थी। इस आधार पर लगातार पुलिस खोजबीन कर रही थी। काफी खोजबीन के बाद पुलिस ने मृतक के पिता सियाराम यादव तथा भाई नीरज कुमार यादव से कड़ाई से पूछताछ किया तो वह दोनों ने पूरे मामले को कबूल किया जिसके तहत पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार किया।
पुलिस के अनुसार सियाराम यादव और उसके पुत्र नीरज कुमार यादव ने धीरज यादव को मृतक की बहन के ससुराल ग्राम हरईपुर थाना इंदरगढ़ जिला कन्नौज बुलाया था। जहां पर अवैध संबंधों के चलते सियाराम यादव तथा उसके पुत्र नीरज यादव तथा भैया लाल यादव और उसका पुत्र अमित यादव निवासी हाजीपुर थाना कन्नौज इंदरगढ़ जनपद कन्नौज को गले में गमछा कस कर हत्या कर दी गई और शव को कन्नौज से बोलेरो गाड़ी में लादकर रातों-रात महमूदपुर गांव के पास सड़क किनारे फेंक दिया गया था। इसके बाद अगले दिन योजनाबद्ध तरीके से अपने विरोधी अभिषेक पटेल व उसके परिवार को फंसाने की नियत से मुकदमा पंजीकृत कराया गया था। इस मामले में नीरज यादव, भैया लाल यादव, सियाराम यादव, अमित यादव द्वारा हत्या किए जाने के साक्ष्य प्राप्त हुए जिस पर पुलिस ने अभियुक्त नीरज यादव और भैया लाल यादव की गिरफ्तारी उनके घरों से कर ली। गिरफ्तारी टीम में कोतवाली प्रभारी निरीक्षक नंदलाल सिंह सब इस्पेक्टर इजहार अहमद हेड कांस्टेबल शहनवाज हुसैन कांस्टेबल अवनीश कुमार तथा सोनू के अलावा महिला कांस्टेबल रंजू यादव अंजना वर्मा मौजूद रहे।


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

मंत्र की उपयोगिता जांचें साधना से पहले