जनता को अपनी जान का भरोसा न हो तो फिर कैसा विकास और किस पर विश्वास: अखिलेश

लखनऊ।

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि भाजपा के राज में जनता खुद को ठगा हुआ महसूस कर रही है। जब जनता को अपनी जान का भरोसा न हो तो फिर कैसा विकास और किस पर विश्वास। राजनीतिक गठजोड़ में व्यस्त भाजपा देश की आर्थिक दुर्दशा का कारण बन गई है। खेती और बाजार सब हताशा के दौर से गुजर रहे हैं। बेरोजगारी चरम पर है। कारोबार चैपट है। कुशासन से सब परेशान हैं।
अखिलेश ने आईपीएन को दिए अपने बयान में कहा कि एक ओर बारिश से आई तबाही में प्रदेशवासी जान गंवा रहे हैं। अपना सब कुछ खो चुके गरीब सरकार से मदद की गुहार लगा रहे हैं। वहीं मुख्यमंत्री पूरी सरकार समेत अपनी उपलब्धियों का बखान सुनकर फूले नहीं समा रहे हैं। चंदौली-जौनपुर में भीषण बारिश में मकान गिरने से 4 मौंते हो गई, एक बच्चा और एक महिला घायल हो गईं। सरकार पीड़ित को मुआवजा दे और घायलो का समुचित उपचार कराए। अब तक अतिवृष्टि से सैकड़ों मौत के शिकार हो चुके हैं। भाजपा सरकार किसी की सुध तक नहीं ली।
अखिलेश ने कहा कि भाजपा की राज्य सरकार ने ढाई साल बड़ी-बड़ी बातों और झूठे सपने दिखाने में ही बिता दिए। जनसमस्याएं जस की तस पड़ी रहीं। सड़क गड्ढा मुक्त होने के बजाय गड्ढों में सड़क हो गई है। बदायूं के सहसवान में बृजपाल की बिजली चोरी में हवालात में हुई मौत भाजपा कुशासन की देन है। सत्ता संरक्षित बिजली चोरों पर कब कार्रवाई होगी? पीड़ित परिवार को मुआवजा कब मिलेगा?
अखिलेश ने कहा कि भाजपा वास्तविक मुद्दों का सामना नहीं करना चाहती है। विकास कार्यों में भाजपा सरकार की कोई रूचि नहीं। प्रदेश में जनहित में विकास का परिचय सिर्फ समाजवादी सरकार ने ही कराया था। न चाहते हुए केन्द्र की भाजपा सरकार को भी समाजवादी सरकार की उपलब्धियों की प्रशंसा करने के साथ सम्मानित करना पड़ा था। भाजपा की उत्तर प्रदेश राज्य सरकार ने खुद तो कुछ किया नहीं बल्कि समाजवादी सरकार के शानदार कामों को भी अपनी अकुशलता से बर्बाद कर दिया। भाजपा को इसका जवाब देना ही पड़ेगा।


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

मंत्र की उपयोगिता जांचें साधना से पहले

’’पवन गुरू, पानी पिता, माता धरति महत’’ को अपने जीवन का अंग बनायें : स्वामी चिदानन्द सरस्वती