पोषण अभियान के अंतर्गत जिला पोषण समिति की समीक्षा बैठक

उन्नाव 


मुख्य विकास अधिकारी श्री प्रेम रंजन सिंह ने आज विकास भवन स्थित सभागार में पोषण अभियान के अंतर्गत जिला पोषण समिति की समीक्षा बैठक करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार कुपोषण की रोकथाम हेतु प्रदेश में सुपोषित गांव बनाने का निर्णय लिया है। इसी उद्देश्य से जनपद उन्नाव में कुपोषण मुक्त गांव बनाने के लिए स्वच्छ भारत मिशन के तहत ओ0डी0एफ0 एवं कुपोषण की व्यापकता वाले गांव को प्राथमिकता देते हुए जनपद के गांवों को सुपोषित गांव बनाने का संकल्प साकार करना है।
मुख्य विकास अधिकारी ने कहा इसी क्रम में सितंबर माह 2019 में जनपद के 32 गांव को चिन्हित कर सुपोषित गांव करने हेतु अधिकारियों को गोद दिया है। उन्होंने कहा कि संबंधित अधिकारी प्रत्येक माह अपने गोद लिए गए गांव में  स्वास्थ्य पोषण एवं स्वच्छता दिवस में भ्रमण कर विस्तृत आख्या देंगे। बैठक में बेसिक शिक्षा विभाग के संबंधित टीचर व सीडीपीओ विकास संबंधी कार्य मन लगाकर करें। गांव की महिलाओं को आजीविका मिशन से जोड़कर उनके आर्थिक रूप से मजबूत बनाएं। आर्थिक स्थिति अच्छी होने पर अपने आप ही ग्रामीण महिलाओं की घर परिवार की समस्याएं दूर होंगी। उन्होंने जो कर्मी जिम्मेदारी से कार्य नहीं कर रहे हैं उन्हें सख्त निर्देश दिए कि अगर एक हफ्ते में सुधार नहीं आता है तो कड़ी से कड़ी कार्यवाही की जाएगी। पोषण/पेंशन/राशन कार्ड/ आवास/ शिक्षा/ स्वास्थ्य आदि से ग्रामीणों को लाभान्वित करें।
मुख्य विकास अधिकारी ने स्वास्थ्य विभाग को निर्देशित करते हुए कहा कि टीकाकरण, बच्चों का वजन , गर्भधात्री, महिलाओं के स्वास्थ्य, आयरन आदि की गोलियों को समय से दें। लेकिन स्वास्थ्य विभाग के कर्मी अपने कार्यों के दायित्वों को सही ढंग से समय से करें, वह इसमें तेजी लाएं।
बैठक में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ काॅमेन्द्र सिंह, डिप्टी सीएमओ , डी सी एन आर एल एम, जिला प्रोबेशन अधिकारी श्रीमती रेनू यादव, जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री दुर्गेश सिंह, उप निदेशक सूचना डा0 मधु तांबे, समस्त सीडीपीओ, स्वास्थ्य विभाग के कर्मी आदि उपस्थित थे।


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

मंत्र की उपयोगिता जांचें साधना से पहले

’’पवन गुरू, पानी पिता, माता धरति महत’’ को अपने जीवन का अंग बनायें : स्वामी चिदानन्द सरस्वती