सम्पूर्ण समाधान दिवस का आयोजन तहसील बीघापुर में

उन्नाव 


सम्पूर्ण समाधान दिवस का आयोजन तहसील बीघापुर में जिलाधिकारी श्री देवेन्द्र कुमार पाण्डेय की अध्यक्षता में सम्पन्न हुआ। सम्पूर्ण समाधान दिवस मे चिकित्सा, स्वास्थ्य, पुष्टाहार, समाज कल्याण, लोक निर्माण विभाग, चकबन्दी, स्वच्छ पेय जल, राजस्व, पुलिस, सिंचाई, वृद्वावस्था, विकलांग, शिक्षा, उद्यान, कृषि, मत्स्य, प्राथमिक शिक्षा, माध्यमिक शिक्षा, राशन वितरण, विद्युत, लघु सिंचाई, रेशम, पुष्टाहार आदि विभागों से सम्बन्धित कुल 151 प्रार्थना पत्रों का पंजीयन किया गया जिनमें से 06 प्रार्थना पत्रों का मौके पर निस्तारण किया गया।
जिलाधिकारी ने कहा कि तहसील दिवस में छोटी-छोटी शिकायतें जैसे खतौनी में नाम गलत दर्ज, वरासत, राशनकार्ड में छोटी-छोटी कमियां मिलती हैं, वे नहीं मिलनी चाहिये। इस तहसील दिवस के मौके पर बहुत सारी शिकायतें मकान गिरने की आई जिसे संबंधित अधिकारी को निर्देश दिए गए हैं कि वे मौके का जायजा लेते हुए जरूरतमंदों को सरकार की मंशा के अनुरूप प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना का लाभ दिलाएं। उन्होंने कहा कि मौके पर आई हुई शिकायतों का समाधान शीघ्र किया जाए। आज तहसील दिवस में बहुत कम शिकायतें आयीं इससे यह प्रतीत होता है कि संबंधित अधिकारी जी-जान व पारदर्शिता से कार्य को अंजाम दे रहे हैं। उत्तर प्रदेश सरकार की जितनी योजनाएं चल रही हैं उन सब का पूरा लाभ ग्रामीणों को मिले यही सभी अधिकारियों की मनसा होनी चाहिए और वह ग्रामीणों को योजनाओं की जानकारी दें ताकि वे अधिक से अधिक योजनाओं का लाभ उठा सकें। उन्होंने यह मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के अधिक से अधिक आवेदन करवाने हेतु निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि कन्या सुमंगला योजना मुख्यमंत्री जी की सबसे प्रमुख एवं महत्वपूर्ण योजना है, जिसमें बेटियों को आगे बढ़ाने के लिए सरकार उन्हें आर्थिक मदद देकर आगे बढ़ाने का कार्य कर रही है। उन्होंने प्रमुखता से स्वास्थ्य विभाग, बेसिक शिक्षा विभाग के साथ-साथ बाल विकास पुष्टाहार, कृषि विभाग को जिम्मेदारी सौंपते हुये कहा कि जिस तरह हम सभी नवरात्रों में नौ देवियों की पूजा करते हैं, उसी प्रकार कन्याओं को प्राथमिकता देते हुये, कन्या सुमंगला योजना के लाभार्थियों के अधिक से अधिक आॅनलाइन आवेदन उोलण्नचण्हवअण्पद पोर्टल पर करवायें।
जिलाधिकारी ने सम्बन्धित को निर्देशित करते हुये कहा कि सम्पूर्ण समाधान दिवस पर आने वाले प्रार्थना पत्रों को गुणवत्तापूर्ण एवं प्रभावी निस्तारण व शिकायतों का प्रभावी अनुश्रवण किया जाये। ं सम्पूर्ण समाधान दिवस में उपस्थित सभी अधिकारी प्रार्थना पत्रों की गुणवत्तापूर्वक निस्तारण की कार्यवाही सुनिश्चित करंे। ब्लॉक एवं तहसील से आए हुए प्रार्थना पत्रों पर निस्तारण तत्काल किया जाए। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी शिकायतों का निस्तारण कर एवं उसकी जानकारी मेरे समक्ष अनुश्रवण हेतु प्रस्तुत करें। शिकायतों के निस्तारण में गुणवत्ता एवं समय सीमा में करें। अन्यथा की दशा में सख्त कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने कहा कि अधिकारी जन सामान्य से सीधे सम्पर्क करें जिससे आम जन मानस को कोई असुविधा न हो।  उन्होंने कहा कि ऐसा नही है कि जनता की समस्याओं का निराकरण केवल सम्पूर्ण समाधान दिवस में ही हो बल्कि गम्भीर मामलों में अधिकारी मौके पर पहुॅचकर समस्याओं का प्रभावी निस्तारण  सुनिश्चित करें। सम्पूर्ण समाधान दिवस शासन की शीर्ष प्राथमिकताओं में है। सम्बन्धित अधिकारी शासनादेश का कठोरता से अनुपालन करना सुनिश्चित करें।
सम्पूर्ण समाधान दिवस में पुलिस अधीक्षक श्री माधव प्रसाद वर्मा, मुख्य विकास अधिकारी, श्री प्रेम रंजन सिंह, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 काॅमेन्द्र सिंह, उप जिलाधिकारी बीघापुर, तहसीलदार बीघापुर सहित समस्त जिला स्तरीय अधिकारी/ कर्मचारी  बड़ी संख्या में फरियादी आदि उपस्थित थे।


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

मंत्र की उपयोगिता जांचें साधना से पहले

’’पवन गुरू, पानी पिता, माता धरति महत’’ को अपने जीवन का अंग बनायें : स्वामी चिदानन्द सरस्वती