सपा ने राज्यपाल को एसडीएम के माध्यम से दिया ज्ञापन

फतेहपुर।


समाजवादी पार्टी ने भाजपा सरकार के सबका विकास सबका साथ और सबका विश्वास का नारा खोखला साबित होने का आरोप लगाते हुये कहा कि लोकसभा चुनाव तक जनता को गुमराह किया जा रहा परंतु चुनाव के बाद ही पेट्रोल, डीजल, रसोई गैस और बिजली की दरों में बेतहाशा वृद्धि यातायात नियमों के नाम पर जुर्माना में कमरतोड़ वृद्धि खाद्यान्न वस्तुओं के मूल्यों में वृद्धि, किसानों को खाद बीज की किल्लत, अपराधों में बेतहाशा वृद्धि, जनता त्रस्त, औद्योगिक सुस्त के नाम पर बेरोजगारी नौजवानों को रोजगार देने का झूठा वादा उनके भविष्य के साथ खिलवाड़ करने वाली सरकार केवल राजनीतिक एजेंडा साधने एवं विकास के नाम पर झूठा प्रचार करने में व्यस्त है। समस्याओं को लेकर सपा द्वारा 9 अगस्त को जिला मुख्यालयों पर शांतिपूर्ण धरना देकर राज्यपाल के द्वारा प्रदेश सरकार का ध्यान आकर्षित किया गया परंतु सरकार के कान में जूं तक नहीं हुई। किसी भी जन समस्या का समाधान करने के बजाय 1 सितंबर से बिजली दरों में भारी वृद्धि कर दी गई लगातार अनसुनी के कारण बाध्य होकर आज हम किसान मजदूर छात्र अल्पसंख्यक शिक्षक व सभी वर्गों के पीड़ित जन पार्टी के हजारों कार्यकर्ता तहसील मुख्यालय पर धरना देकर स्थानीय प्रशासन के माध्यम से हम आपका ध्यान आकर्षित कर निम्न मुख्य मुद्दों का समाधान कराने के लिए शांतिपूर्ण ढंग से धरना के जरिए मांग करते हैं कमरतोड़ महंगाई पेट्रोल, डीजल, रसोई गैस, विद्युत की दरों में बेतहाशा वृद्धि, किसान की समस्या, खाद, बीज का अभाव, कर्ज के बोझ में दबे किसान द्वारा आत्महत्या बेरोजगारी नौजवान निराश, हताश बेकार, प्रदेश की कानून व्यवस्था ध्वस्त, अपराधों से भरी वृिद्ध, चारों तरफ जंगल राज व्यापत, एनकाउंटर हो रहे है। पार्टी के कार्यकर्ता का उत्पीड़न, विशेष वर्गों में हत्या की घटनाएं, भ्रष्टाचार की सरकार ऊपर से नीचे तक बिना रिश्वत कोई कार्य नहीं, स्वस्थ सेवाएं ठप, जौहर विश्वविद्यालय में राज्य सरकार द्वारा किया जा रहा अत्याचार तत्काल बंद हो, महिलाओं के साथ छेड़खानी, बलात्कार, बच्चियों के साथ दुष्कर्म और हत्या अपहरण की घटनाओं में बाढ़ पर रोक, अल्पसंख्यक पर फर्जी मुकदमे लगाए जा रहे। उनका फर्जी एनकाउंटर अल्पसंख्यकों का रोका जाए। बिजली, पानी, सड़क का भाव, भाजपा राज में प्रदेश का विकास कार्य ठप, समाजवादी सरकार के कार्यों को ही भाजपा सरकार अपना नाम दे रही है। भाजपा के सभी दावे झूठे, प्रदेश सरकार का एससी/एसटी के छात्रों को निशुल्क प्रवेश प्रक्रिया एवं शुल्क प्रतिपूर्ति की व्यवस्था को समाप्त कर दिया गया। जिसका बहाल किया जाए। जनपद में आवारा पशुओं के किसान बहुत परेशान है। अपनी फसलें नहीं बचा पा रहे। आवारा पशुओं को पकड़ने की व्यवस्था की जाए। इस मौके पर दलजीत सिंह निषाद, वीरन, वीरेंद्र यादव, शिव शंकर, प्रेमनाथ, रविंद्र निषाद, हाजी रफी, हाजी रजा, सैयद अली, रीता प्रजापति, ज्ञानेंद्र सिंह, नफीस उद्दीन, शकील गोल्डी, जय प्रताप सिंह, पप्पू आजम, चंद्रप्रकाश लोधी, रानी देवी, संदीप सिंह, शिव भवन यादव, रंजन सिंह, फूल सिंह, सुनीता उमराव, गीता, राजकुमारी आदि सपाई मौजूद रहे।



Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन