सेना के पश्चिमी एवं मध्य कमान के उच्च पर्वतीय क्षेत्रों में ट्रेकिंग अभियान

लखनऊ।


हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के उच्च पर्वतीय क्षत्रों में सेना एक स्वतंत्र पैरा ब्रिगेड द्वारा ट्ेकिंग अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान दल में 15 सदस्य शामिल हैं जिसका नेतृत्व कैप्टन अमित कुमार चौहान कर रहे हैं जो एक कुशल पर्वतारोही हैं और इन्होंने मई 2019 में माउंट एवरेस्ट पर सफलतापूर्वक चढ़ाई कर चुके हैं।
इस अभियान दल को एक स्वतंत्र पैरा ब्रिगेड के कमांडर ब्रिगेडियर आर.एस. रावत द्वारा आगरा से रवाना किया गया था। यह अभियान दल 12 अक्टूबर तके घनसाली पहुॅंच चुका है।
हिमाचल प्रदेश के खानडुंती से गत 25 सितंबर 2019 को शुरू हुआ यह अभियान आगामी 05 नवंबर 2019 को उत्तराखंड के गुंजी में संपन्न होगा। यह टे्किंग दल ग्रेटर हिमालय से होकर गुजरेगा जो 40 दिनों की अवधि में 320 किमी की दूरी तय करेगा। यह मार्ग लगभग 14000 से 15000 फीट की औसत ऊॅचाई और चार प्रमुख ग्लेशियरों घिरा हुआ है जो क्रेवस, खड़ी कटाई और तेज बहने वाले नाले टे्क मेनिफोल्ड्स के कठिनाई स्तर को बढ़ाने के लिए बाध्य है। अभियान के सफलतापूर्वक पूरा होने पर 'पैराट्ूपर्स' के ऐतिहासिक सुनहरे पन्नों में एक और सुनहरा पन्ना जुड़ जायेगा। गौरतलब है कि पैराट्ूपर्स पूरे साल कई अन्य साहसिक गतिविधियों को अंजाम देते रहते हैं।


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन