श्रमिकों के कल्याण के लिए राज्य सरकार प्रतिबद्ध : उपमुख्यमंत्री

योगी सरकार ने भरे गरीबों के सपनों में रंग
दीपावली पर योगी सरकार देगी कन्या सुमंगल योजना का उपहार
रायबरेली।


उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री डा. दिनेश शर्मा ने कहा कि उत्तर प्रदेश की सरकार श्रमिकों के कल्याण के लिए प्रतिबद्ध है। सरकार ने इस बात के पुख्ता इंतजाम किये हैं कि जन कल्याण की योजनाएं व सेवाएं जनता तक बिना किसी बाधा के पहुचें। उन्होंने कहा कि दीपावली के उपहार के तौर पर दो दिन के बाद 25 अक्टूबर को राज्य सरकार कन्या सुमंगल योजना आरंभ करने जा रही है। इसके तहत कन्या के बेहतर भविष्य की व्यवस्था की जाएगी।
उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड द्वारा निर्माण श्रमिकों के विशाल पंजीयन एंव हितलाभ वितरण कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि श्रमिकों के घरों के बच्चों का सम्मानजनक विवाह हो सके इसके लिए भी सरकार ने इंतजाम किया है। आज उनके बच्चों की भी धूमधाम से शादी हो रही है। गरीबों के सपनों में रंग भरने का काम योगी सरकार ने किया है। यूपी सरकार का प्रयास है कि गरीबों का उत्थान हो तथा गरीबी की रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले भी आर्थिक तौर पर उन्नत हो सकें।
उपमुख्यमंत्री ने कहा कि श्रम विभाग श्रमिकों के खाते में सीधे पैसे भेजने  की व्यवस्था की है। श्रमिकों की चिकित्सा से लेकर छात्रवृत्ति सहित तमाम ऐसे जीवन से जुडे पहलू है जिनके लिए श्रम विभाग अपने दायित्व को बखूबी निभा रहा है। उन्होंने कहा कि श्रमिक कल्याण की सरकार की प्राथमिकताओं को पूरा करने में विभाग कोई कोर कसर नहीं रख रहा है। डा. शर्मा ने कहा कि पहले के समय में विरोधी दलों के नेता भोली भाली जनता को बहकाकर वोट ले लिया करते थे। हाल यह था कि गांव में बिजली के खम्बे डालकर बिजली देने के नाम पर ही वोट ले लिये जाते थे। अब समय के बदलाव के बाद सूबे में योगी सरकार के आने बाद केन्द्र व राज्य ने यह तय किया कि जनता की मूलभूत आवश्यकताओं को पूरा करने वाले कार्य प्राथमिकता पर किए जाएंगे। गृहणियों को चूल्हे के धुंए से मुक्ति दिलाने के लिए घर घर गैस का कनेक्शन देने का काम प्रधानमंत्री मोदी और सीएम योगी की सरकार ने किया है। हर व्यक्ति का सपना होता है कि उसके पास अपना मकान हो और मोदी योगी सरकार ने गांव  गांव में आवास देने का काम किया है। आजादी के 70 साल के बाद भी महिलाओं को नित्य कर्म से निवृत होने के लिए अंधेरा होने का इंतजार करना पडता था। प्रधानमंत्री ने महिलाओं की समस्या को समझते हुए उनके सम्मान की रक्षा के लिए अभियान चलाकर घर घर शौचालय निर्माण कराने का काम किया है। इन योजनाओं को लागू करने में जाति धर्म क्षेत्र का भेदभाव नहीं किया गया। गांव में सफाई हो, तालाबों में पानी हो, सिंचाई की व्यवस्था हो, बिजली  24 घंटे शहर में 20 घंटे तहसील में तथा 18 घंटे गांव में आए इसकी भी व्यवस्था सरकार ने की है। पहले बिजली के कनेक्शन के लिए विभाग के कार्यालय के चक्कर लगाने पडते थे पर योगी सरकार में अधिकारी बिजली का कनेक्शन देने के लिए घरों तक पहुचे हैं। सौभाग्य योजना के तहत मुफ्त बिजली के कनेक्शन दिए गए है। रायबरेली में सई नदी के प्रदूषण को दूर करने के लिए सीवर लाईन डाली जाएगी। इसके लिए कैबिनेट की बैठक में प्रस्ताव पारित हो गया है। रायबरेली के विकास के लिए 18717 लाख रुपए की कार्ययोजना पास की गई है। इसके तहत नदी में गिरने वाले नालों को भी डायवर्ट किया जाएगा। इतनी बडी योजना आज तक रायबरेली के लिए पास नहीं हुई है। रायबरेली में जिन्होंने लम्बे समय तक शासन किया उन्होंने यहा के विकास के लिए कुछ नहीं किया। इसके विपरीत भाजपा की सरकार ने यहां के विकास के लिए संजीदगी से काम किया। यूपी सरकार लोगों तक सरकार की योजनाओं को पहुचाने के लिए काम कर रही है।
कार्यक्रम में श्रम मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य एमएलसी दिनेश प्रताप सिंह विधायक राम नरेश रावत भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष सुधीर हलवासिया जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन के अधिकारीगण मौजूद थे।


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

मंत्र की उपयोगिता जांचें साधना से पहले