उद्यम स्थापन के लिए लम्बित आवेदनों का शीघ्र निस्तारण करें बैंक रू मण्डलायुक्त

गोण्डा।


देपीपाटन मण्डल के आयुक्त महेन्द्र कुमार ने मण्डलीय उद्योगबन्धु की बैठक में प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम, मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना, प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, स्टैण्डअप योजना तथा उद्योग विभाग से सम्बन्धित विभिन्न योजनाओं की प्रगति की समीक्षा के दौरान सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित किया है कि वे इन यायेजनाओं में दस लाख रूपए की लागत तक ही परियोजनाएं स्वीकृत कर आर्थिक दृष्टि से कमजोर अधिक से अधिक लोगों को लाभान्वित कराएं ताकि मण्डल में अधिकाधिक रोजगार सृजन हो सके और अधिक से अधिक लोग लाभान्वित हो सकें। उन्होंने बैठक में स्पष्ट रूप से निर्देश दिए कि अधिक लागत की बड़ी परियोजनाएं मात्र कुछ लोगों को स्वीकृत कर देने से योजना का लाभ कुछ ही लोगों को मिल पाएगा और मण्डल के विभिन्न जनपदों का निर्धारित भौतिक लक्ष्य भी पूरा नहीं हो सकेगा।
आयुक्त ने प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यर्क्रम की समीक्षा के दौरान सभी लीड बैंक मैनेजरों को निर्देश दिए हैं कि वे अपनी जिम्मेदारी का निर्वाह करते हुए योजनान्तर्गत बैंकों को प्रेषित आवेदन पत्रों को स्वीकृत कराकर लाभार्थियों में ऋण वितरण कराना सुनिश्चित करें। इसके लिए उन्होंने मुख्य विकास अधिकारियों की अध्यक्षता में बैठक कराने तथा आवेदकों की सूची लीड बैंक मैनेजरों का उपलब्ध कराने हेतु उद्योग विभाग को निर्देशित किया है। स्टैण्डअप योजना की प्रगति की समीक्षा के दौरान आयुक्त ने सभी लीड बैंक मैनेजरों को निर्देशित किया है कि बैठक कराकर इस योजना में शीघ्रातिशीघ्र प्रगति सुनिश्चित कराएं। उन्होंने ओडीओपी योजना के अन्तर्गत  भी निर्धारित लक्ष्य के अनुयप अधिकाधिक लोगों को योजना का लाभ दिए जाने के निर्देश दिए हैं।
बैठक में आयुक्त ने उपस्थित उद्यमियों की विभिन्न समस्याएं भी सुनीं तथा संयुक्त आयुक्त उद्योग को निर्देशित किया कि वे उनका गुण-दोष के आधार पर परीक्षण कर आगामी बैइक में उसे प्रस्तुत करें।
बैठक में संयुक्त आयुक्त उद्योग, उपश्रमायुक्त देवीपाटन मण्डल, चारों जनपदों के जिला प्रबन्धक उद्योग व लीड बैंक मैनेजर तथा अन्य सम्बन्धित विभागीय अधिकारी तथा उद्यमी उपस्थित रहे।


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

मंत्र की उपयोगिता जांचें साधना से पहले