यूपी के सभी मंत्री/विधायकों ने चलाया स्वच्छता अभियान

सिंगल यूज प्लास्टिक मुक्त भारत का किया आवाह्न
लखनऊ।

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती के अवसर पर भारतीय जनता पार्टी लखनऊ महानगर क्षेत्र के कैण्ट विधानसभा को छोड़कर शेष सभी 97 वार्डों में भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, डा. दिनेश शर्मा सहित सभी मंत्रियों विधायकों एवं संगठन पदाधिकारियों, पार्षदों, कार्यकर्ताओं द्वारा स्वच्छता अभियान चलाया गया एवं सिंगल यूज प्लास्टिक मुक्त भारत अभियान के अन्तर्गत पैदल मार्च कर लोगां को जागरूक किया गया और उनसे सिंगल यूज प्लास्टिक एवं बोतले उपयोग न करने का आवाह्न भी किया गया।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विक्रमादित्य वार्ड के 1090 चौराहे पर आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लिया एवं उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने निशातगंज काल्विन कालेज वार्ड में, डा. दिनेश शर्मा ने ऐशबाग वार्ड, प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह, राजेन्द्र प्रताप सिंह मोती एवं महानगर अध्यक्ष मुकेश शर्मा ने चौक में, वित्तमंत्री सुरेश खन्ना ने, इब्राहिमपर प्रथम में सूर्य प्रताप शाही ने विवेकानन्दपुरी में, आशुतोष टण्डन गोपाल ने मैथिलीशरण गुप्ता वार्ड में, बृजेश पाठक ने राजेन्द्र वार्ड वार्ड में, स्वाती सिंह ने विद्यावती प्रथम वार्ड में, श्रीकांत शर्मा ने जानकीपुरम द्वितीय में, सिद्धार्थनाथ सिंह ने दौलतगंज में, मुकुट बिहारी वर्मा ने मनकामेश्वर में, नन्दगोपाल नन्दी ने जयशंकर प्रसाद वार्ड में, डा. महेन्द्र सिंह ने अयोध्यादास द्वितीय वार्ड में, इस प्रकार सभी 97 वार्डों में तीन-तीन विधायकों एवं मंत्रियों ने सुबह 7 से 8 बजे स्वच्छता एवं सिंगल यूज प्लास्टिक मुक्त भारत अभियान में भाग लेकर लखनऊ से स्वच्छ एवं सिंगल यूज मुक्त भारत बनाने का संदेश दिया।
इस अभियान में भारतीय जनता पार्टी के सभी 97 वार्डों के पार्षद, पार्षद प्रत्याशियों एवं संगठन के कार्यकर्ताओं ने उनके वार्ड में पहुंचे मंत्रियों एवं विधायकां के साथ बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया और स्वच्छ भारत स्वस्थ भारत के गांधी के सपनों को साकार करने वाले प्रधानमंत्री नरेन्द्र के आवाह्न को गति देने का कार्य किया।


Popular posts from this blog

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

मंत्र की उपयोगिता जांचें साधना से पहले