योग, आयुर्वेद को विश्व में पहुंचाने के संकल्प के साथ ‘आयुर्योग एक्स्पो’ सम्पन्न

योग और आयुर्वेद एक चिकित्सा प्रणाली ही नहीं अपितु एक जीवनशैली है: आचार्य लोकेश
योग एवं आयुर्वेद को विश्व मंे फैलाएँ: डा नगेन्द्र
ग्रेटर नोएडा।


ग्रेटर नोएडा में आयोजित चार दिवसीय आयुर्योग एक्स्पो के समापन दिवस पर योगऋषि स्वामी रामदेव ने प्रातः योगाभ्यास कराया। समापन सत्र को जैन आचार्य लोकेशजी स्वामी अमृत सूर्यनन्दाजी, महामंडलेश्वर स्वामी महेश्वरानन्दजी आयुर्योग एक्स्पो कमेटी के चेयरमेन डा.एच.आर. नगेन्द्र, पतंजलि योगपीठ के डा. जयदीप आर्य, राकेश कुमार ने संबोधित किया।
अहिंसा विश्व भारती के संस्थापक आचार्य लोकेश ने कहा कि गत तीन दिन से चल रहा आयुर्योग एक्स्पो 2019 योग, आयुर्वेद एवं प्रकृतिक चिकित्सा का अंतरराष्ट्रीय महाकुंभ है। इससे देश विदेश के लोगों को स्वास्थ्य लाभ तो मिला ही है साथ ही इसके माध्यम से अनेक विद्वानों का आपसी समन्वय भी स्थापित हुआ है। उन्होंने कहा कि योग और आयुर्वेद एक चिकित्सा प्रणाली ही नहीं अपितु एक जीवनशैली है जिसे अपनाने से स्वस्थ व्यक्तित्व के साथ स्वस्थ समाज और स्वस्थ वातावरण की संरचना संभव है।
स्वामी अमृत सूर्यनन्द महाराज व महामंडलेश्वर स्वामी महेश्वरानन्द ने कहा नियमित योग से नकारात्मक सोच नष्ट होती है और सकारात्मक सोच उत्पन्न होती है। आयुर्वेद एवं प्राकृतिक चिकित्सा एक ऐसी चिकित्सा प्रणाली है जिसके प्रतिकूल प्रभाव नहीं है। हमारा आहार किस प्रकार संतुलित हो इसकी जानकारी मिलती है। योग एवं प्रकृतिक चिकित्सा हर भारतीय की दिनचर्या का हिस्सा होना चाहिए तभी भारत विश्व गुरु बन सकता है।
डा. एच.आर. नगेन्द्र ने बताया कि गत तीन दिनों से योग पर विश्व की सबसे बड़ी सभा 'आयुर्योग एक्स्पो' का आयोजन ग्रेटर नोएडा के इंडिया एक्सपोजिशन मार्ट लिमिटेड में इंडियन योग एसोसिएशन एवं आयुष मंत्रालय के सहयोग से चल रहा है। इसने विश्व भर से 5000 से अधिक प्रतिनिधियों ने भाग लिया। करीब एक लाख लोग  यहां आए एवं समापन दिवस पर योगऋषि स्वामी रामदेव ने योगाभ्यास कराया।  प्राचीन भारतीय पद्धति के साथ साथ वैज्ञानिक दृष्टिकोण पर भी अनेक सत्र हुये। आयुर्योग एक्स्पो के दौरान 600 से ज्यादा स्टाल लगाए गए जिनमे योग, आयुर्वेद और प्राकृतिक चिकित्सा से संबन्धित उत्पादन उपलब्ध थे।


Popular posts from this blog

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन