अखिलेश से मिले विभिन्न जनपदों के लोग, भाजपा सरकार की गिनायी कमियां

लखनऊ।


समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से गुरूवार को विभिन्न जनपदों से आए लोगों ने भेंट कर अपनी व्यथा सुनाई। इनमें बड़ी संख्या में ग्राम प्रधान और किसानों के प्रतिनिधि भी थे। तमाम कार्यकर्ताओं ने शिकायत की कि भाजपा सरकार किसानों के साथ मनमानी रवैया अपनाती है। निर्दोषों को भी विपक्षी होने के कारण उत्पीड़ित किया जाता है। कई किसानों ने बताया कि उनकी जमीनों पर दबंगों ने कब्जा कर लिया है। पुलिस-प्रशासन गरीबों के बजाय अमीरों का संरक्षण करता है।
किसानों ने अखिलेश को बताया कि राष्ट्रीय राजमार्ग-7 वाराणसी टेगरा मोड़ से मिरजापुर (हनुमान बार्डर तक) राष्ट्रीय राजमार्ग का चौड़ीकरण हो रहा है। इसमें किसानों की अधिग्रहीत भूमि का सर्किलरेट न लगाकर मनमानी रेट लगाया जा रहा है। राष्ट्रीय राजमार्ग 7 में 5 बाईपास बनाने का प्रस्तावित है जिसमें किसानों की सिंचित एवं उपजाऊ भूमि बर्बाद होगी। किसानों की दुर्दशा की बात सर्वश्री रामसूरत, हंसलाल, प्रदीप, सुधीर यादव एवं अर्जुन, कुलदीप पाल ने भी कही।
सुल्तानपुर से कई प्रधान आए थे। ज्ञानप्रकाश एवं त्रियुगी यादव ने बताया कि भाजपा सरकार में पुलिस निर्दोषों को फर्जी केसों में फंसा रही है। वाराणसी के तमाम प्रधानों सर्वश्री अमलेश पटेल, गोपाल यादव (रोहनिया) पूर्व प्रधान श्याम लाल चौहान (बसंत पट्टी) वरूणापति उपाध्याय (बरेली) रमाशंकर यादव बीडीसी (भटगांव) तथा कैलाश पटेल सदस्य (मनियारीपुर) ने अखिलेश से मिलकर बताया कि किस तरह से भाजपा गांव-किसान और खेती-खलिहान की विरोधी पार्टी है।
भीमनगर, मथुरा की स्वामी गोलू देवी ने भी अखिलेश यादव से भेंट की। देवरिया के धर्मेन्द्र सोलंकी भुर्जी राष्ट्रीय गायक ने भी आज मुलाकात की। धर्मेन्द्र सोलंकी भुर्जी ऑल इण्डिया बिरहा के लोक सम्राट है। ऊंचाहार निवासी श्री दिनेश कुमार, गत 7 सालों से लोक कल्याण के लिए नंगे पैर चल रहे हैं। उन्होंने भी आज अखिलेश यादव से भेंट कर 2022 में विजय की कामना की।


Popular posts from this blog

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन