अयोध्या मामले में सौहार्द बिगाड़ने वालों पर लगेगा रासुका

सोशल मीडिया की मानीटरिंग के लिए कन्ट्रोल रूम स्थापित
अभेद्य रहेगी सुरक्षा व्यवस्था, संभावित अराजक तत्वों का चिन्हांकन शुरू
डीएम-एसपी ने की शांति व्यवस्था बनाए रखने की अपील
गोण्डा।

अयोध्या प्रकरण को लेकर सर्वोच्च न्यायालय के संभावित फैसले के दृष्टिगत जिले में शांति व्यवस्था कायम रखने के लिए सोमवार को जिलाधिकारी डा0 नितिन बंसल तथा एसपी राज करन नैयर ने दोनों समुदायों के विभिन्न संगठनों के पदाधिकारियों व नगर के सम्भ्रान्तजनों के साथ कलेक्ट्रेट सभागार में बैठक कर अपील की, कि सर्वोच्च न्यायालय का जो भी निर्णय आएगा, हम सबको उसका सम्मान करना चाहिए और शांति व्यवस्था, आपसी सौहार्द बनाए रखने के लिए आगे आना चाहिए।
बैठक में जिलाधिकारी ने कहा कि यह बैठकें करने का नहीं बल्कि सभी को जिम्मेदारियां लेने का वक्त है। शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए समाज के सम्भ्रान्तजनों को आगे आना चाहिए। उन्होंने कहा कि माननीय सर्वोच्च न्यायालय का जो भी फैसला आने वाला है, हम सबको सहर्ष मन से उसका सम्मान करते हुए सौहार्द कायम रखना चाहिए।
पुलिस अधीक्षक आर0के0 नैयर ने माननीय सर्वोच्च न्यायालय के सम्भावित फैसले का सभी से सम्मान करने की अपील करते हुए स्पष्ट चेतावनी भी दी है कि जिले में अमन-चैन बिगाड़ने वालों के खिलाफ सीधे रासुका (एनएसए) के तहत कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने बताया कि सोशल मीडिया मानीटरिंग हेतु तत्काल प्रभाव से कन्ट्रोल रूम स्थापित कर दिया गया है और सोशल मीडिया पर आने व प्रेषित किए जाने वाले हर मैसेज पर कड़ी निगाह रखी जा रही है। उन्होंने अपील करते हुए कहा कि सोशल मीडिया या अन्य किसी भी माध्यम से कोई व्यक्ति अफवाह कतई न फैलाए और यदि कोई व्यक्ति ऐसा करता है तो इसकी सूचना तुरन्त उन्हें दी जाए ताकि ऐसा करने वालों को अफवाह न फैलाने के लिए रोका जा सके। उन्होंने कहा कि आपात कालीन परिस्थतियों में तुरन्त 112 डाॅयल करें तथा उनके सीयूजी नम्बर 9454400272 पर काॅल करके सूचित करें जिससे समयबद्ध कार्यवाही की जा सके।
पुलिस अधीक्षक ने कहा कि जिले में अयोध्या की तरह ही पुलिस द्वारा अभेद्य सुरक्षा इन्तजाम किए जा रहे हैं तथा निचले स्तर तक प्रत्येक गतिविधि की माॅनीटरिंग की जा रही है। बैठक में आए हुए दोनों समुदायों के लोगों का व्हाट्सएप नम्बर लेकर जिला स्तर पर सूचनाओं के आदन-प्रदान हेतु व्हाट््सएप गु्रप बनाया जा रहा है। एसपी श्री नैयर ने कहा कि सोशल मीडिया पर भड़काऊ पोस्ट डालने वालों के खिलाफ कठोरतम कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने यह भी अपील की कि सोशल मीडिया पर अयोध्या प्रकरण या समुदाय विशेष की भावनाओं को आहत करने वाली किसी भी पोस्ट को शेयर या लाइक न करें बल्कि ऐसा करने वालों को रोकने व समझाने का प्रयास करें तथा इसकी सूचना जिला प्रशासन को तत्काल दें, जिससे त्वरित कार्यवाही की जा सके।
बैठक में डीएम व एसपी ने दोनों समुदायों के लोगों से उनके विचार व सुझाव प्राप्त किए तथा उन पर कार्यवाही का आश्वासन देते हुए कहा कि किसी भी दशा में किसी को अमन-चैन बिगाड़ने नहीं दिया जाएगा। दोनों सुमदायों के लोगों ने बैठक में आश्वस्त किया कि उनके द्वारा माननीय सर्वोच्च न्यायालय द्वारा दिए जाने वाला निर्णय बिल्कुल मान्य होगा और वे सभी अपने स्तर से इस बात को जन सामान्य तक पहुंचाएगें।
बैठक में अपर जिलाधिकारी रत्नाकर मिश्र, एएसपी महेन्द्र कुमार सहित दोनों समुदायों व संगठनों के पदाधिकारीगण, सभासदगण तथा नगर के सम्भ्रानतजन उपस्थित रहे।


Popular posts from this blog

भारत विदेश नीति के कारण वैश्विक शक्ति बनेगा।

बांसडीह में जाति प्रमाण पत्र बनाने को लेकर दर्जनों लोगों ने एसडीएम को सौपा ज्ञापन

स्वरोजगारपरक योजनाओं के अंतर्गत ऑनलाइन ऋण वितरण मेले का किया गया आयोजन